बलिया में समय से नही खुल रहे सरकारी विद्यालय

बलिया(संजय कुमार तिवारी): कोरोना की दूसरी लहर सुस्त पड़ने का बाद करीब 100 दिन बाद प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों को पहली जुलाई से खोलने का आदेश दिया गया है। हालांकि शैक्षिक कार्य अभी नहीं हो रहे लेकिन शिक्षकों और कर्मचारियों को सुबह आठ से दो बजे तक विद्यालय में मौजूद रहकर विद्यालयीय कार्य निपटाने के आदेश है। बावजूद शिक्षा क्षेत्र पंदह के अधिकतर विद्यालयों के ताले अब तक नहीं खुले। यहां तैनात शिक्षक और प्रधानाचार्य निर्देशों को ताक पर रख कर अभी भी छुट्टियां मना रहे हैं। उदाहरण के तौर पर कम्पोजिट विद्यालय प्रसादपुर जूनियर हाईस्कूल अहिरौला, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय डकीनगंज, पहराजपुुुर है जुलाई महीने में पांच दिन बीतने के बाद भी इन स्कुलोंपर अभी भी ताला लटक रहा है। कोरोना काल के बाद न तो इन स्कूलों की साफ सफाई कराई गई और न ही सैनिटाईजेशन ही कराया गया। इससे ग्रामीणों में काफी रोष है। आरोप है कि इन विद्यालयों पर तैनात शिक्षक अपनी मनमानी के लिए विख्यात हैं। वहीं इन विद्यालयों की निगरानी के लिए तैनात किए गए एआरपी भी अपनी जिम्मेदारी नहीं निभा रहे हैं। बता दें कि ब्लॉक क्षेत्र में 38 उच्च प्रा वि और 137 प्रावि हैं। जिनमे से कबे सड़क स्थित विद्यलयों को छोड़ दिया जाए तो अधिकतर स्कूल अभी भी बंद चल रहे हैं। इस सम्बंध में एसडीआई मनोज कुमार सिंह ने बताया कि ऐसे विद्यालयों को चिह्नित कर सम्बंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।