गेहूं क्रय केन्द्रों पर तौल धीमी गति से होने पर किसान फोर्स के पदाधिकारियों में आक्रोश

बलिया(संजय कुमार तिवारी): सहकारी क्रय केन्द्रों में धीमी गति से हो रही गेहूं की तौल पर किसान फोर्स के कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताई है। उन्होंने खरीद केन्द्रों पर मनमानी का आरोप लगाया है। गुरुवार को किसान फोर्स के नेता अखिलेश सिंह ने कहा कि प्रशासन द्वारा कड़ा निर्देश के बावजूद स्थानीय कस्बा स्थित एफसीआई व साधन सहकारी समितियों सहित क्षेत्र के पिपरा कला व नूरपुर साधन सहकारी समितियों के क्रय केन्द्रों की मनमानी रवैये से किसान परेशान है। गेहूं से लदा ट्रैक्टर ट्राली की लम्बी कतार एवं केन्द्र द्वारा तौल की धीमी रफ्तार से समय के अन्दर खरीददारी संभव नही है । प्रशासन खरीद में लापरवाही कर किसानों को बिचौलिए के पास जाने को मजबूर कर रही है। वही खरीफ की फसल की तैयारी एवं साहुकारों का कर्ज चुकाने की चिन्ता किसानों को सताए जा रही है। शासन की मंशा के अनुसार प्रतिदिन 350 कुन्तल गेहूं की खरीददारी के सापेक्ष 100 से 150 कुन्तल ही खरीददारी हो पा रही है। किसानों का कहना है कि तीन-चार दिनों से ट्रैक्टर के भाड़े का जुर्माना देना पड़ रहा है। इस दौरान किसानों ने चेतावनी दिया है कि प्रशासन के निर्देशों का सख्ती से पालन नही हुआ तो किसान फोर्स जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य हो जाएगा। मौके पर देवेन्द्र यादव, छोटेलाल, संजय सिंह, बीरबल, योग गुरु जनार्दन, राजेन्द्र यादव, कन्हैया, सुरेन्द्र, सुरेश, रामबचन, शिव मंगल सहित दर्जनों किसान मौजूद थे।