दुबई से एयरलिफ्ट किए जा रहे 7 ऑक्सीजन कंटेनर्स, लेने पहुंचा भारतीय वायुसेना का विमान

भारतीय वायुसेना का एक C17 विमान 7 खाली क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनरों के एयरलिफ्ट के लिए दुबई पहुंचा.देश में कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है. ऐसे में कई राज्यों में।ऑक्सीजन की काफी किल्लत है. अस्पतालों में बेड, वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की भारी कमी देखी जा रही है. कई अस्पतालों ने ऑक्सीजन की कमी के कारण मरीजों को भर्ती करने से भी मना कर दिया है. ऐसे में IAF C-17 विमान वर्तमान कोरोना के मामलों में उछाल देखते हुए ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने को लेकर सात खाली कंटेनरों के एयरलिफ्ट के लिए दुबई पहुंचा.

भारतीय वायुसेना का एक C17 विमान 7 खाली क्रायोजेनिक कंटेनरों के एयरलिफ्ट के लिए दुबई में उतरा है. लोडिंग के बाद वेस्ट बंगाल में शाम 5.30 बजे तक विमान पानागढ़ पहुंच जाएगा. वायु सेना ने इसकी जानकारी दी.देश में कोरोना संकट से निपटने के लिए वायुसेना सिंगापुर और यूएई जैसे देशों से बड़े ऑक्सीजन कंटनेर एयरलिफ्ट कर रहा है. वायुसेना ने इसके लिए अपने ट्रांसपोर्ट फ्लीट को ‘स्टैंडबाय’ पर रखा है. गृह मंत्रालय से आदेश मिलते ही इन कंटनेर्स को भारत लाया जाएगा. इसी को लेकर सोमवार को ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने को लेकर दो और खाली कंटेनरों को दुबई पहुंचाया गया है.

भारतीय वायुसेना ने कसी कमर

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में भारतीय वायुसेना ने देशभर में कमर कस रखी है. वायुसेना के सी-17 ग्लोबमास्टर, सी-130जे सुपरहरक्युलिस, आईएल-76, एएन-32 और एवरो जैसे ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट्स के साथ-साथ चिनूक और मी-17 जैसे हैवी-लिफ्ट हेलीकॉप्टर्स को मैदान में उतार दिया है. देश में बिगड़ते हालातों को देखते हुए ये फैसला लिया गया है.

कई देश कर रहे मदद

इसके साथ ही अमेरिका ने भारत को 318 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर दिए है. सोमवार को एयर इंडिया का विमान 318 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर लेकर दिल्ली पहुंचा. यह विमान न्यूयॉर्क के जेएफके हवाई अड्डे से ऑक्सीजन लेकर रवाना हुआ था. ऑक्सीजन की कमी से कई मरीजों की मौत हो चुकी है. इस बीच अमेरिका समेत कई देशों ने भारत की मदद के लिए हाथ बढ़ाया हैं।