प्रधानमंत्री आवास योजना में गड़बड़झाला, लाभुक का पैसा किसी और का निवाला

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज प्रखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत अंचरा में प्रधानमंत्री आवास योजना में बड़ी गड़बड़ी सामने आया है।लाभुक का पैसा किसी और खाते में दे दिया गया है।इस मामले को लेकर लाभुक बर्षों से सरकारी बाबुओं के दफ्तर का चक्कर लगा रहा है. इस बाबत लाभुक कलावती देवी पति प्रमोद शर्मा, ग्राम पंचायत अंचरा वार्ड संख्या- सात निवासी ने संवादाता के सामने बताते हुए कहा कि लगभग एक वर्ष पूर्व मेरे नाम से प्रधानमंत्री आवास योजना सूची में नाम दर्ज हुआ। नाम दर्ज होने के बाद मेरे वार्ड के वार्ड सदस्य एवं आवास सहायक तथा पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि के द्वारा इसकी जानकारी दिया गया। उन लोगों ने बताया कि आपका आवास का पैसा आपके खाते में चला जाएगा आप अपना आधार कार्ड, बैंक पासबुक की छाया प्रति दे एक सप्ताह के अंदर काम हो जाएगा। हम सभी दस्तावेज का छाया प्रति वार्ड सदस्य एवं आवास सहायक हो दे दिए। कुछ दिनों के बाद जब हम सहायक व वार्ड सदस्य से पूछी तो उन्होंने बताया कि आपको 20,000 रुपैया घूस देना होगा। रुपया सब को देना पड़ता है। हम बोलें मेरे पास 20,000 रुपैया नहीं है, हम कहां से देंगे, हम रुपैया नहीं दे सकेंगे तो उन लोगों ने कहा आपका काम नहीं होगा। कुछ दिन बीत जाने के बाद इन लोगों से हमने पूछने लगे तो बताने से इनकार करते रहा। तब जाकर किसी ने मुझे बताया कि आपके नाम से आवास का पैसा दूसरे के खाते में भेज दिया गया है। इस बात को लेकर नरपतगंज प्रखंड विकास पदाधिकारी के समक्ष जानकारी दिया उन्होंने भी आजकल कहते कहते एक वर्ष होने जा रहा है। लेकिन अब तक आवास राशि नहीं दिया गया है।

क्या कहते हैं आवास सहायक अंचरा मनीष ठाकुर:-

इस बाबत आवास सहायक से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि कलावती देवी से संबंधित फाइल मेरे पास नहीं है। पूर्व आवास सहायक अनिल भगत से जानकारी मिल सकता है।

क्या कहते हैं वार्ड सदस्य सुरेश यादव:-
इस बाबत वार्ड सदस्य से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि कलावती देवी के नाम से आवास से संबंधित कागजात लगाया बैंक खाता के छाया प्रति भी दिया गया। लेकिन कलावती देवी के खाता नंबर के जगह मायावती देवी पति रामनाथ पंडित वार्ड संख्या 9 निवासी का खाता संख्या पूर्व आवास सहायक अनिल भगत के द्वारा लगाकर राशि का निकासी कर लिया गया है। मुझे जब इसकी जानकारी मिला तो मैंने सहायक से रुपैया कलावती के खाते में देने को कहा लेकिन सहायक ने टालमटोल कर आज तक कलावती देवी को आवास की राशि नहीं दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि सहायक के द्वारा कलावती देवी से ₹20000 की मांग की गई थी, जिसकी जानकारी स्वयं लाभुक कलावती देवी ने दिया। जिस कारण ऐसा किया गया है। राशि नहीं देने पर हमने प्रखंड विकास पदाधिकारी नरपतगंज रंजीत कुमार सिंह से इसकी शिकायत की और प्रखंड विकास पदाधिकारी ने मायावती देवी को कार्यालय से रुपैया वापसी के लिए दो बार नोटिस भी किया गया लेकिन अब तक राशि का रिकवरी नहीं हो पाया है।लाभुक दर-दर भटक रही है।

क्या कहते हैं प्रखंड विकास पदाधिकारी नरपतगंज रंजीत कुमार सिंह:-
इस बाबत पूछे जाने पर प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि मेरे संज्ञान में मामला आया था। पैसा वापस करने के लिए हम बोले थे, लेकिन नहीं हो पाया है। आवास सहायक को बताये है आगे की कार्यवाही करने के लिए। आपके द्वारा फिर जानकारी मिली है, थाना में बोलकर नोटिस करवाते हैं. आखिर कौन है इस खेल में दोषी, आवास सहायक या कार्यालय कर्मी। लाभुक क्यों है लाभ से बंचित? कब मिलेगा योजना का लाभ।झोपड़ी में रह कर कटेगी जिंदगी।