घूरना बाजार में नहीं देखा गया लॉकडाउन का असर, सुबह 11 बजे के बाद भी खुली रहती है दुकानें

 घूरना बाजार में नहीं देखा गया लॉकडाउन का असर, सुबह 11 बजे के बाद भी खुली रहती है दुकानें

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज प्रखंड के सीमावर्ती घुरना बाजार में बिहार सरकार द्वारा कोरोना महामारी को लेकर लगाए गए लॉकडाउन का कोई असर नहीं दिखा।सुबह करीब 11:35 बजे संवाददाता घुरना बाजार का जायजा लेने पहुंचे,तो देखा कि अधिकांश किराना दुकान सहित कई अन्य दुकानें खुली थी,और कोई भी पुलिसकर्मी बाजार में मौजूद नहीं दिखाई दिया. लोगों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि यहाँ पर सारी दुकानें अधिकांश रूप से खुली रहती है और घूरना पुलिस कभी-कभार आकर दुकानों को बंद कराती है।यहां किसी प्रकार का कोई प्रतिबंध नहीं है।सारी दुकानें चोरी-छिपे खुली रहती है और कोई रोकने-टोकने वाला भी नहीं है। यहां तक कि लोगों ने बताया नेपाल से भी लोग यहाँ धरल्ले से आकर खरीदारी करते हैं.

संवाददाता के द्वारा इस बाबत घूरना पुलिस ओपी अध्यक्ष भुटकुन राय से समय करीब 11:40 बजे मोबाइल पर पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि हमारे द्वारा कोरोना महामारी को लेकर प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है।जब उनसे पूछा गया कि 11:35 बज चुके हैं और दुकानें खुली है,इसपर उन्होंने टालमटोल के अंदाज में कहा कि गस्ती गाड़ी निकली है,दुकान बंद करा दिया जाएगा. ऐसा लगता है कि घूरना बाजार में लॉक डाउन की धज्जियां उड़ाई जा रही है और पुलिस प्रशासन खामोश है. वहीं इस बाबत प्रखंड विकास पदाधिकारी नरपतगंज रंजीत कुमार सिंह से पूछे जाने पर बताया कि आपके द्वारा अभी जानकारी मिली है, कार्रवाई अवश्य होगी।घूरना थानाध्यक्ष से बात करते हैं. जबकि अंचल पदाधिकारी,नरपतगंज प्रवीण कुमार ने जांच कर कार्रवाई करने की बात कही।

News Crime 24 Desk

Related post