बाम दलों के ऊपर हिंसक हमले के खिलाफ पश्चिम बंगाल के साथियों के साथ एकजुटता विरोध जत्था निकाला

धनबाद: पश्चिम बंगाल में सीपीआईएम सहित बाम दलो के कार्यकर्ताओं पर हिंसक हमले के खिलाफ पार्टी ने एकजुटता जत्था निकाला।आज सीपीआईएम धनबाद लोकल कमेटी के तत्वाधान में प्रेमचंद नगर धनबाद में ममता बनर्जी के टी एम सी गुंडे द्वारा पश्चिम बंगाल में पार्टी सहित बाम दलों के ऊपर हिंसक हमले के खिलाफ पश्चिम बंगाल के साथियों के साथ एकजुटता विरोध जत्था निकाला।पार्टी कार्यकर्ताओं ने कोरोना काल को ध्यान में रख कर, शारीरिक दूरी और मास्क लगाकर कार्यक्रम आयोजित करते हुए गुस्सा में ममता बनर्जी होश में आओ, वामपंथी कार्यकर्ताओं को हत्या कराना बंद करो।, पश्चिम बंगाल की जनता तुम हिंसा के खिलाफ आगे बढ़ो, हम तुम्हारे साथ हैं। के नारे लगा रहे थे।इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि टीएमसी की जीत के बाद प्रदेश भर में कई बाम कार्यकर्ताओं को और समर्थकों को क्रूर हिंसा के अधीन किया जा रहा है। इनमें से कई की हालत गंभीर है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बर्दवान के जमालपुर में टीएमसी के हमले का विरोध करते हुए एक साथी शहीद हो गए। महिलाओं को रेप कर देने का धमकी दिया जा रहा है जो सरासर निंदनीय है।
वक्ताओं ने आगे कहा कि ममता बनर्जी को याद रखना चाहिए कि टीएमसी जीता नहीं है, बल्कि प्रदेश की धर्मनिरपेक्ष जनता ने भाजपा को हराया है। हमें ये भी समझना होगा कि चुनाव का जो नतीजा आया है, उसमें माकपा या बाम दल कहीं नहीं है, फिर भी इस पर हमला किया जा रहा है। इसका साफ मतलब है कि आज भी पार्टी वहां के जनता के दिलों में बसा है, जिसे आतंकित कर खत्म करना चाहती है, जो संभौव नहीं है, क्योंकि धरती पर जबतक जुल्म व अत्याचार रहेगा, ये कम्युनिस्ट लोग लड़ता रहेगा. कार्यक्रम में राम कृष्णा पासवान, रामबालक धारी, लीलामय गोस्वामी, सुरेश पासवान, अनिल कुमार सिन्हा, सुरेंद्र पासवान, प्रकाश, अमित कुमार तथा कई अन्य साथी उपस्थित थे।