लोगों को घर-घर जाकर कोविड-19 टीकाकरण के लिए जागरूक कर रहे आईसीडीएस कर्मी

  • टीका एक्सप्रेस के साथ लोगों को टीका लगाने के लिए कर रहे प्रेरित
  • टीकाकरण से होने वाले दुष्प्रभाव सम्बंधी भ्रांतियों को दूर करने का कर रहे प्रयास
  • कोविड-19 टीकाकरण में केयर इंडिया द्वारा भी किया जा रहा पूरा सहयोग

कटिहार(रंजीत ठाकुर): बुजुर्गों को कोविड-19 टीका अब उनके स्थानीय क्षेत्र पर ही दिया जा रहा है। उसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीका एक्सप्रेस चलाया गया है जिसके द्वारा 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को ऑन स्पॉट पंजीकरण कर कोविड-19 टीका लगाया जा रहा है। टीकाकरण कार्य में समेकित बाल विकास परियोजना के सभी कर्मियों द्वारा घर-घर जाकर लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक करने के साथ टीकाकरण के प्रति फैल रही भ्रांतियों को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। कोविड एक्सप्रेस द्वारा वयस्क लोगों को स्थानीय स्तर पर टीकाकरण में जिला स्वास्थ्य विभाग को केयर इंडिया द्वारा भी पूरा सहयोग मिल रहा है। उनके अधिकारी द्वारा भी लोगों को टीका लगवाने के लिए जागरूक करने के साथ जिला स्वास्थ्य समिति को जरूरी व्यवस्था उपलब्ध कराने में मदद किया जा रहा है ।

टीका एक्सप्रेस के साथ घर-घर जाकर लोगों को टीका लगवाने के लिए कर रहे प्रेरित :
आईसीडीएस जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (डीपीओ) बेबी रानी ने बताया सरकार द्वारा वयस्क लोगों को कोविड-19 टीकाकरण के पंजीकरण में हो रही परेशानी को देखते हुए टीका एक्सप्रेस चलाया गया है जो लोगों को उनके घर के पास ही शिविर आयोजित कर कोविड-19 का टीका लगा रहा है। लेकिन टीका लगाने के लिए अभी भी लोग खुलकर सामने नहीं आ रहे। लोगों को टीका लगाने से होने वाले फायदों की जानकारी देने के लिए सभी आईसीडीएस कर्मियों द्वारा टीका एक्सप्रेस के साथ ही घर-घर जाकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इसमें स्थानीय आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका के साथ ही महिला पर्यवेक्षिका और सीडीपीओ भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं । उनके द्वारा घर-घर जाकर लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया आंगनबाड़ी सेविका अपने क्षेत्र के लोगों को टीका एक्सप्रेस आने की पहले से ही जानकारी देती हैं जिससे कि लोग टीकाकरण के लिए समय से पहुँच सकें। टीकाकरण के समय भी सेविका, सहायिकाओं द्वारा घर-घर लोगों को सूचित किया जाता है। टीकाकरण के लिए नहीं आ रहे लोगों को महिला पर्यवेक्षिका, सीडीपीओ द्वारा भी टीका लगवाने से होने वाले फायदों की जानकारी दी जाती है जिससे लोग टीकाकरण के प्रति आश्वस्त होने के साथ टीका लगाने में भाग ले रहे हैं।

टीकाकरण से होने वाले दुष्प्रभाव सम्बंधी भ्रांतियों को दूर करने का कर रहे प्रयास :
आईसीडीएस पोषण अभियान जिला समन्वक अनमोल गुप्ता ने बताया ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 को लेकर बहुत तरह की भ्रांतियां देखी जा रही हैं । लोगों में टीकाकरण के बाद बीमार होने, टीका लगवाने पर भी कोविड संक्रमण होने जैसी भ्रांतियां देखी जा रही हैं । आईसीडीएस कर्मी लोगों को जानकारी दे रहे हैं कि कोविड-19 टीका के लगाने से लोगों की स्वास्थ्य प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। टीका लोगों को संक्रमण से दूर रखने और संक्रमित होने पर भी जल्द ही संक्रमण से उबरने में सहायक है। आईसीडीएसकर्मी द्वारा लोगों की भ्रांतियों को दूर कर उन्हें टीकाकरण अभियान में भाग लेने और अपने तथा अपने परिवार को सुरक्षित रखने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

कोविड-19 टीकाकरण में केयर इंडिया द्वारा भी किया जा रहा पूरा सहयोग :
जिले में कोविड-19 टीकाकरण अभियान को सफल बनाने में डीआरयू- केयर इंडिया द्वारा भी सहयोग किया जा रहा है। उनके अधिकारी भी लोगों को टीका लगवाने के लिए घर-घर जाकर जागरूक कर रहे हैं। केयर इंडिया के डिटीएल प्रदीप कुमार बेहरा ने बताया जिले के सभी प्रखंड में वयस्क लोगों को उनके घर पर ही कोविड-19 टीका लगाने के लिए कुल 42 टीका एक्सप्रेस चलाया गया है। सभी प्रखंडों में 2 से 3 टीका एक्सप्रेस चलाया गया है जो लोगों को घर-घर जाकर टीका लगा रहा है। उन्होंने बताया शहरी क्षेत्र में चलाए जा रहे 2 टीका एक्सप्रेस केयर इंडिया द्वारा दिया गया है। टीका एक्सप्रेस की संख्या में हुई वृद्धि जिले के सभी लोगों को जल्द टीका उपलब्ध कराने में सहायक होगी। इस कार्य में डीआरयू-केयर के अधिकारी डीटीओ-एफ भावना राणा व डीटीओ-ऑन राहुल सोनकर द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जा रही है। उन्होंने सभी वयस्क लोगों को टीका एक्सप्रेस का लाभ लेते हुए घर पर ही टीका लगवाने और 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को पंजीकरण कराकर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में कोविड-19 टीका लगवाने की अपील की।