फूस के घर में आग लगने से एक व्यक्ति का जल कर मौत!

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज घूरना थाना क्षेत्र वार्ड नंबर 11 में शनिवार की रात्रि लगभग 12:00 बजे फूस के घर में आग लगने से 65 वर्षीय जलेबी राम के मौत हो गई l आग लगने का कारण का पता नहीं लग पाया है l मृतक का बड़ा पुत्र रामदेव राम ने बताया उसके पिताजी को 1 सप्ताह पहले ठंड लग गई थी जिनका किसी तरह इलाज चल रहा था की सब दिन के तरह शनिवार को पिताजी को खाना खिला कर सुला दिए उसके बाद हम लोग अपने बाल बच्चे के साथ सोने चले गए लगभग 12:00 बजे रात्रि को अचानक बाहर निकले तो देखें घर में आग लगी हुई है और हमारे पिताजी जलकर तड़प रहे हैं बचाने का कोशिश में हम भी कुछ जल गए जिस घर में पिताजी सोए थे उस घर में इलेक्ट्रिक लाइट जल रही थी। आग कहां से आया कौन लगाया कुछ पता नहीं है.

वही इस संबंध में बजरंग दल के पूर्व जिला संयोजक मनोज सोनी ने कहां अभी मैं संगठन के कुछ काम को लेकर पटना में है घटना हमारे संज्ञान में आया है मृतक जिलेबी राम का बड़ा पुत्र रामदेव राम से फोन पर बात कर सारी जानकारी लिया हूं श्री सोनी ने सांत्वना देते हुए कहा इस दुख की घड़ी में मैं पीड़ित परिवार के साथ हूं l उन्होंने कहा घूरना बाजार पथराहा पंचायत के साथ जिले के अधिकारी सौतेला पन का व्यवहार कर रहे हैं इस पंचायत में किसी भी प्रकार का सरकार की योजना का लोगों को सही लाभ नहीं मिल पा रहा है यहां के लोग बहुत योजनाएं से वंचित रह जाता है l उन्होंने कहा मृतक जिलेबी राम के पास अगर सरकारी प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर होता तो शायद जलेबी राम की मौत प्लास्टिक के घर में तड़प तड़प कर नहीं होती l पक्की घर नहीं होने के कारण वे प्लास्टिक वाली घर में सोए थे। उन्होंने कहा यहां तक की पथराहा पूरे पंचायत के अंदर चारों ओर कच्ची फूस का घर दिखता है जिससे सरकार की आवास योजना का पोल खुल रही है l श्री सोनी ने कहा इस पंचायत में लोगों का भला तो जनप्रतिनिधियों के द्वारा नहीं होता है मगर जनप्रतिनिधि का भला जरूर होता है।उनके संपत्ति में वृद्धि जरूर होती है l श्री सोनी ने कहा अररिया डीएम प्रशांत कुमार से मैं मांग करता हूं की पीड़ित जिलेबी राम के परिजनों की बदहाल स्थिति को देखते हुए उन्हें विधि पूर्वक क्रिया कर्म करने हेतु सम्मानजनक राशि प्रदान करें क्योंकि जानकारी के अभाव में पीड़ित परिवार शव को पोस्टमार्टम नहीं करवा पाया.

क्या कहते हैं घूरना थानाध्यक्ष:-
इस बाबत घूरना थाना अध्यक्ष ने बताया कि किस कारण से आग लगा उसका अब तक पता नहीं चल पाया है।