किसानों को हुई लाखों रूपये की क्षति..!

गिरिडीह: जिले के बगोदर प्रखंड के हद में अटका पूर्वी पंचयात के लक्षीबागी-कुबरीटांड मे 3 मार्च की दोपहर 12 बजे 10 एकड़ में लगे गन्ने की फसल में आग लग गई। जिससे किसानों की लाखो रूपये गन्ने की फसल का नुकसान हो गया। फसल में आग कैसे लगी इसका पता नही चल पाया है। आग लगभग दो तीन घंटों जलता रहा। फसल बर्बाद होने से किसानों की कमर टुट गई.

इस संबंध में भुक्तभोगी किसानों ने बताया कि दोपहर के समय वे सभी अपने घरों में थे इस दौरान पता चला कि गन्ने की खेत में आग लग गई है। जिसके बाद वे खेतों की तरफ भागे। जहां आग जल रहा था। किसानों के अनुसार आग की लपटें जहां तक गया वहां तक जल कर फसल बर्बाद हो गया। पीड़ित किसानों ने बताया कि वे पिछले वर्ष लाॅकडाउन के समय गन्ने की फसल लगाये थे। जल जाने से उनका फसल पुरी तरह से बर्बाद हो गया है। किसानों ने फसल की हुई क्षतिपूर्ति की सरकार से भरपाई की मांग की है। इधर आग लगने की सुचना मिलने पर बगोदर पश्चिमी जिला परिषद सदस्य पुनम महतो, पवन महतो, जन सहारा केन्द्र के सचिव ओमप्रकाश महतो, रंजित मेहता आदि पहुंच कर मुअयाना किये और किसानों की फसल की हुई नुकसान की भरपाई की मांग की है। बताया जाता है कि स्थानीय रहिवासी किसान शयाम लाल साव, लक्ष्मण नायक, महेंद्र साव, राजु साव, टेक नारायण साव, होरिल साव, डुगलाल साव, परमेश्वर साव, युगल साव, भरत साव, राजेश साव, दौलत साव, नारायण साव, रोहित साव, दुलार चंद साव, लक्ष्मण साव, जगदीश साव, सीटन साव, मानिक साव, घनश्याम साव, भोला साव समेत कई किसानो के गन्ने के फसल पुरी तरह से जल गया है।