परिवार का गुजारा, अब रेन बसेरा में गुजर रही जिंदगी

 परिवार का गुजारा, अब रेन बसेरा में गुजर रही जिंदगी

धनबाद: मुंबई में चाय बेचकर अपना व अपने परिवार का पेट भरनेवाले गिरिडीह राज धनवार के रहनेवाले कृष्णा यादव इन दिनों लॉक डाउन लग जाने की वजह से वापस मुंबई जाने में असमर्थ है। काम की तलाश में धनबाद तो आ गए पर उन्हें कोई काम नही मिला। परिवार समेत लुबी सर्कुलर रोड स्थित रेन बसेरा में रहकर लोगों के दिए मदद से गुजर बसर कर रहे है।

समाजसेवी सम्राट चौधरी व लुबी सर्कुलर रोड के दुकानदार रोजाना कुछ न कुछ खाद्य सामग्री उन्हें मुहैया कराते आ रहे है। कृष्णा यादव ने बताया लोगो की मदद से आखिर कबतक परिवार का गुजारा चलेगा। सरकार से मदद मिलनी चाहिए। उन्होंने बताया उन्हें मिलने वाला पेंशन भी विगत डेढ़ वर्षो से बंद है। पिछले वर्ष देश भर में लॉक डाउन लग जाने के बाद से वापस अपने घर गिरिडीह राज धनवार आ गए। साल भर किसी तरह मेहनत मजदूरी करके परिवार चलाया। रोजी रोटी के जुगाड़ में वापस मुंबई जाने की सोची।

फिर से लॉक डाउन लग जाने की वजह से मुंबई जाना मुश्किल हो रहा है। काम की तलाश में परिवार समेत धनबाद आ पहुँचे। विगत एक माह से धनबाद में दर दर भटक रहे है कही कोई काम नही मिल रहा। सिर पर छत नही थी। किसी तरह रेन बसेरा को अपना डेरा बना लिया है। खाने के लाले है।

आसपास के लोगो की मदद से किसी तरह गुजर हो रहा है पर यह ना काफी है। परिवार की अच्छी परवरिश के लिए रोजगार जरूरी है। सरकार प्रशासन से मांग है कि सरकारी लाभ मिले या फिर ऐसी व्यवस्था हो जिससे कि वापस मुंबई जाकर अपने पुराने व्यवसाय को चलाकर रोजगार चला सके।

News Crime 24 Desk

Related post