लॉकडाउन में भुखमरी के कगार पर पहुंचे मजदूरों को रोजगार और परिवार को छह माह का मुफ़्त राशन की मांग को लेकर प्रदर्शन

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): अखिल भारतीय खेत मजदूर सभा के कार्यकर्ताओं ने फुलवारी शरीफ के दर्जनो गावो में लॉक डाउन में भुखमरी के कगार पर पहुंचे मजदूरों को रोजगार की व्यवस्था करने और परिवार को छह माह का मुफ़्त राशन की मांग को लेकर प्रदर्शन किया. माले फुलवारी प्रखंड सचिव गुरदेव दास ने बताया की लॉक डाउन के दौरान मनरेगा मजदुर को भुखमरी के कगार पर पहुच गया है लेकिन कही भी काम नहीं मिला है । सरकार मनरेगा मजदुर को निर्माण मजदुर के दर्जा के तहत निबंधन करे मनरेगा और रोजगार को गारन्टी दें। इन्हें 200 दिन काम 500 रुपया मजदूरी के साथ स्थानीय रोजगार सेवक को पंचायत में रहने की गारंटी किया जाए । सभी पंचायत में ग्राम सभा लगाया जाऐ ,सभी मजदूरों को जॉब कार्ड , सभी गरीबों को  5 हजार लॉक डाउन भत्ता देने और छह माह का राशन मुफ्त देने की मांग भी किया गया है. प्रदर्शन में खेत मजदूर सभा के अध्यक्ष कामरेड सरीफा मांझी, सचिव देवी लाल पासवान, राधेशयाम पासवान अजय मांझी आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।