दियारा के पुरानी पानापुर घाट पर गंगा में समाई सवारी जीप, दुर्घटना में 9 लोगों की दर्दनाक मौत

 दियारा के पुरानी पानापुर घाट पर गंगा में समाई सवारी जीप, दुर्घटना में 9 लोगों की दर्दनाक मौत
Advertisement
Ad 3
Advertisement
Ad 4
Digiqole Ad

दानापुर(आनंद मोहन): राजधानी पटना से सटे दानापुर दियारा के पुरानी पानापुर घाट पर पीपा पुल की रेलिंग तोड़ते हुए एक सवारी जीप गंगा में समा गयी। वाहन पर तेरह लोग सवार थे। जिसमें चालक समेत तीन लोग नदी में कूदकर अपनी जान बचाने में कामयाब रहे। बाकी नौ लोगों की गंगा में डूबने से दर्दनाक मौत हो गयी। मृतक एक ही परिवार के सभी सगे संबंधी हैं। घटना की सूचना मिलने के बाद प्रशासनिक महकमे में खलबली मच गयी। जानकारी के मुताबिक अकिलपुर के रहने वाले मदन सिंह के घर शादी समारोह था। 21 अप्रैल को मदन सिंह के पुत्र राकेश सिंह का तिलक उत्सव अकिलपुर में हुआ था। मदन सिंह का दूसरे मकान जो दानापुर के चित्रकूट नगर रोड नंबर 9 में है वहां पर 25 अप्रैल को मरवा एवं 26 अप्रैल को शादी की तैयारियां की गई थी। शुक्रवार की सुबह विवाह के अगले कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए संबंधी लोग सवारी जीप पर सवार होकर दानापुर चित्रकूट नगर के लिए निकले थे। इस सवारी जीप में परिवार के 12 सदस्य सवार होकर सुबह के साढे छह बजे घर से निकले थे। इस बीच सवारी जीप जैसे ही पुरानी पानापुर घाट के पास पीपा पुल पर पहुंची चालक द्वारा नियंत्रण खो दीया और पुल की रेलिंग को तोड़ते हुए वाहन नदी में जा गिरी। नदी में वाहन के गिरते ही चालाक मुकेश समेत वाहन के ऊपर बैठे दो रिश्तेदार सुजीत सिंह एवम राकेश सिंह वाहन से कूदकर किसी तरह अपनी जान बचाने में कामयाब रहे। वही जीप के अंदर बैठे अन्य 9 लोगों नदी में डूबने से दर्दनाक मौत हो गई । मृतकों में अकिलपुर निवासी रामाकांत सिंह उम्र लगभग 65 वर्ष व उनकी पत्नी गीता देवी उम्र लगभग 60 वर्ष, चंदेश्वर सिंह के पुत्र अरविंद कुमार उम्र लगभग 45 वर्ष, उमाकांत सिंह की पत्नी सरोज देवी उम्र लगभग 50 वर्ष एवं चंदन कुमार के पुत्र आशीष कुमार उम्र 8 वर्ष वही डुमरी जुआर सारण निवासी ललन सिंह की पत्नी गायत्री देवी उम्र लगभग 55 वर्ष, वही भोजपुर के सिरसिया गांव के रहने वाले राकेश सिंह के पुत्री सुमन कुमारी उम्र लगभग 14 वर्ष व पुत्र प्रत्यांश कुमार उम्र लगभग 8 वर्ष एवं इनकी मां अनुरागो देवी उम्र लगभग 65 वर्ष इन सभी की गंगा नदी में डूबने के कारण दर्दनाक मौत हो गई। दुर्घटना के बाद पीपापुल घाट पर अफरा – तफरी का माहौल हो गया। घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जुटी रही। घटना की सूचना मिलते ही अकिलपुर पुलिस , शाहपुर पुलिस , दानापुर , दिघवारा पुलिस समेत कई थाने के पुलिस और पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। घटना के घंटे भर बाद क्रेन मंगाकर काफी मशक्कत के बाद एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम द्वारा नदी में गिरे जीप को निकाला गया.

Advertisement
GOLU BHAI
Advertisement
MS BAG

इस घटना के बाहर पूरा दियारा का गांव उठ कर गंगा किनारे इस दर्दनाक हादसे को देखने के लिए पहुंच चुका था लोगों की आंखों से आंसू नहीं थम रहे थे जिस घर में मंगल गीत गाए जा रही थी उस घर में एक ही परिवार के 9 लाशें बिछ चुकी थी। पुरानी पानापुर घाट पर हजारों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। वहां जितने लोग थे उतनी बातें हो रही थी। कोई जर्जर पीपा पुल को कोस रहा था, तो कोई चालक की गैर जिम्मेदाराना हरकत को। इस घटना ने पल भर में एक घर की सारी खुशियां उजाड़ दी। सभी शवों को निकाले जाने के बाद पोस्टमार्टम के लिए दानापुर सदर अस्पताल लाया गया। जहां पुलिस शव का पोस्टमार्टम कराते हुए उनके शव को उनकेे परिजनों सौंप दिया। इस दुर्घटना के बाद मृतक के परिजनों को आपदा प्रबंधन के तरफ से तत्काल 36 लाख रुपए की सहायता राशि दी गयी। मरने वालों में 6 सारण जिला और तीन भोजपुर जिला के बड़हरा के रहने वाले हैं। आपदा प्रबंधन के एडीएम अरुण कुमार झा ने बताया कि सभी संबंधित पदाधिकारियों को राशि दे दी गई है। मृतक के परिजनों का सत्यापन करने के बाद प्रत्येक मृतक के परिवार को चार – चार लाख की राशि दे दी जाएगी। घटनास्थल पर सांसद रामकृपाल यादव , विधायक रीतलाल राय , प्रखंड प्रमुख सुनील राय पूर्व विधायक आशा सिन्हा समेत कई जनप्रतिनिधि भी मौजूद थे।

Advertisement
Ad 2
Digiqole Ad

News Crime 24 Desk

Related post

error: Content is protected !!