स्वास्थ्य सेवाओं को जमीनी स्तर तक पहुंचाने में सहयोगी संस्थाओं की भूमिका महत्वपूर्ण

 स्वास्थ्य सेवाओं को जमीनी स्तर तक पहुंचाने में सहयोगी संस्थाओं की भूमिका महत्वपूर्ण
Advertisement

अररिया(रंजीत ठाकुर): जमीनी स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाने के कार्य में सहयोगी संस्था की भूमिका महत्वपूर्ण हो चुकी है। सहयोगी संस्था के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग को समय समय पर जरूरी तकनीकी सहयोग के साथ उचित सहयोग व सुझाव प्राप्त हो रहा है। जो सेवाओं को बेहतर बनाने के लिहाज से प्रभावी साबित हो रहा है। बीते एक वर्ष के दौरान स्वास्थ्य विभाग की सहयोगी संस्था यूनिसेफ द्वारा किये गये कार्यों की समीक्षा व आगे की रणनीति पर विचार के लिये सोमवार को सदर अस्पताल में रिव्यू सह प्लानिंग बैठक का आयोजन किया गया है। सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में यूनिसेफ से संबंधित कार्यों की समीक्षा की गयी।

Advertisement

स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी में संस्था का प्रयास सराहनीय :

बैठक को संबोधित करते हुए सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता ने कहा कि जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिये यूनिसेफ के माध्यम से निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। इन प्रयासों से कोविड टीकाकरण के साथ नियमित टीकाकरण के मामलों में जिले के प्रदर्शन में काफी सुधार हुआ है। उन्होंने संस्था द्वारा आगे भी इसी तरह के प्रयास की उम्मीद जाहिर की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मो मोईज ने कहा कि यूनिसेफ स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिये काम करने वाली एक वैश्विक संस्था है। जमीनी स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने में संस्था का योगदान महत्वपूर्ण रहा है। कोविड टीकाकरण मामले में संस्था के प्रतिनिधियों को उचित सहयोग स्वास्थ्य विभाग को प्राप्त हुआ है। लिहाजा टीकाकरण के मामले में हमारी उपलब्धियों में लगातार सुधार हो रहा है।

Advertisements
Advertisement

स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी में सहयोगी संस्था की भूमिका महत्वपूर्ण :

समीक्षात्मक बैठक में डीपीएम रेहान अशरफ ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को जमीनी स्तर तक पहुंचाने में सहयोगी संस्था की भूमिका महत्वपूर्ण है। सहयोगी संस्थाओं से हमें तकनीकी मदद के साथ जरूरी सहयोग व सुझाव मिलता रहा है। जो सेवाओं को बेहतर बनाने में मददगार है। एसएमसी आदित्य कुमार सिंह ने कहा कि यूनिसेफ अपने समर्पित कर्मियों की बदौलत स्वास्थ्य सेवाओं को ज्यादा प्रभावी व असरदार बनाने के प्रयास में जुटा है। उन्होंने कहा कि रोग के कारणों की पड़ताल करते हुए इसके प्रति लोगों को जागरूक करने संबंधी संस्था का प्रयास आगे भी जारी रहेगा। ताकि स्वस्थ व सेहतमंद समाज का निर्माण संभव हो सके। कार्यक्रम में डीएमएनई सभ्यशांची पंडित, डीटीएल केयर पल्लवी कुमारी, डीटीओएफ केयर डोली वर्मा, केयर के कंस्लटेंट मो नौशाद, डीएएम सनेाज कुमार, डीसीएम रमन कुमार, पिरामल स्वास्थ्य के संजय कुमार सहित अन्य मौजूद थे।

न्यूज़ क्राइम 24 संवाददाता

Related post