यास चक्रवात के कारण हुए बारिश से सड़कें नाले में तब्दील!

 यास चक्रवात के कारण हुए बारिश से सड़कें नाले में तब्दील!
Advertisement
Ad 3
Advertisement
Ad 4
Digiqole Ad

अररिया(रंजीत ठाकुर): जिले के नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र के सीमावर्ती पंचायतों में  रविवार 30 मई के सुबह आई यास चक्रवात के कारण मूसलाधार बारिश ने  सड़कें की तस्वीर बदल कर रख दी।  लोगों की माने तो इस वर्ष इस क्षेत्र में आज सबसे ज्यादा बारिश हुई है। जिससे सड़क नाले में तब्दील हो गया। बारिश के चलते सड़क नाले में तब्दील होने का मुख्य कारण सड़क किनारे नाले का निर्माण नहीं होने से सड़क पर ही एक से दो फीट जल का जमाव हो जाता है। ऐसा ही नजारा  प्रखंड के फुलकाहा बाजार स्थित सभी सड़कों का  देखने को मिला है। जबकि कई वर्षों से आसपास की सड़कें जर्जर व टूटे हैं इसको देखने वाला कोई नहीं है वहीं सरकार के द्वारा चलाए जा रहे गली नाली योजना के तहत आज तक फुलकाहा बाजार के नवाबगंज पंचायत में नाली का निर्माण नहीं हो पाया है जो दुर्भाग्यपूर्ण बात है। जबकि सात निश्चय योजना से नाली का निर्माण हर ग्रामीण सड़कों के किनारे करना है, लेकिन इस तरफ पंचायत से लेकर प्रखंड, प्रखंड से लेकर जिला तक के ना तो किसी जनप्रतिनिधि ने और ना ही किसी पदाधिकारी इस तरफ ध्यान दिया। इस क्षेत्र में ऐसा लगता है कि विकास के नाम पर सिर्फ ठगा जा रहा है.

Advertisement
GOLU BHAI
Advertisement
MS BAG

क्या कहते हैं स्थानीय लोग जानिए:-

Advertisement
Ad 2

इस बाबत स्थानीय युवक कौशल कुमार बताते हैं कि लगभग 80 के दशक में इस क्षेत्र के सड़कों का निर्माण किया गया था। कितने सरकार बदल गये, लेकिन आज तक हम लोगों के क्षेत्र का तस्वीर नहीं बदल पाया है। कौन है इसके दोषी यह तो भगवान ही जाने।

मदन ठाकुर बताते हैं कि चुनाव के समय प्रतिनिधि लोग वोट मांगने के समय बड़े-बड़े वादे करते हैं।कहते है यह बना देंगे वह बना देंगे लेकिन चुनाव जीत जाने के बाद सारे वादे भूल जाते हैं। आखिर लोग करें तो क्या करें ना तो पदाधिकारी देखने आते हैं और ना ही जनप्रतिनिधि।

बीरेंद्र दास बताते हैं की  कोरोना महामारी के समय भी किसी पदाधिकारी ने इस क्षेत्र का सुध लेने का कोशिश नहीं किया क्षेत्र में क्या होता है क्या नहीं होता है, इसका भगवान ही मालिक है। सड़कें के लिए हम लोग कई बार विधायक, सांसद, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं पदाधिकारी से कहते-कहते थक गये, लेकिन इस पंचायत का कभी तस्वीर नहीं बदल पाया है।
  
मो०अशलम अंसारी बताते हैं कि बाजार के  मुख्य सड़क में हल्की बारिश में भी सड़क नाले में तब्दील हो जाता है, जिससे पैदल आने जाने वाले महिलाएं, बच्चे,एवं पुरुष को चप्पल खोल कर खुले पैर पानी में भीगते हुए आना जाना पड़ता है। सड़क को लेकर हम लोग विधायक व सांसद को बार-बार कहे लेकिन किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। विकास के नाम पर हम लोगों को ठगा जा रहा है। सरकार को मीडिया के माध्यम से कहना चाहते हैं कि क्षेत्र का किसी दूसरे एजेंसी से जांच करा कर देखें तो पता चलेगा कि विकास हुआ या नहीं।

Digiqole Ad

News Crime 24 Desk

Related post

error: Content is protected !!