सुहाग सेज पर दूल्हे की मौत, रात में हुआ निकाह सुबह दूल्हे ने तोड़ा दम..!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पटना के फुलवारी शरीफ के ईसापुर में एक अजीबोगरीब घटना में सुहागसेज पर ही दूल्हे की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गयी। शनिवार की रात में जब दूल्हे मो राजा (22 साल) के निकाह की रस्मे हुई तो वह बिल्कुल स्वस्थ था लेकिन सुबह सुहाग सेज पर ही उसने दम तोड़ दिया। अपने दूल्हा को सुबह सुबह हाथ पांव और पूरा शरीर ठंडा पड़ा देख बीबी सिमरन ने परिवार वालों को बुलाया तो खुशियों के माहौल में अचानक कोहराम मच गया । परिजनों ने आनन फानन दूल्हा राजा को शहर के एक निजी हॉस्पिटल ले गए जहां उसे चिकित्सको ने मृत घोषित कर दिया। घटना को लेकर दूल्हा दुल्हन के परीवार में में मातम का माहौल है । वहीँ बड़े ही गमगीन माहौल में देर शाम दूल्हा को जनाना उठा.

बताया जाता है कि ईसापुर अपार्टमेंट के पीछे रहमत नगर निवासी टेलर का काम करने वाले अली इमाम उर्फ भोला के बड़े पुत्र मो राजा का निकाह पारिवारिक रिश्तेदार मो मुमताज की बेटी सिमरन के साथ तय हुआ था। राजा और सिमरन दोनो आपस मर बेइंतहा मुहब्बत भी करते थे । इसकी जानकारी परिवार वालों को हुआ तो निकाह कराने का फैसला लिया गया था। दुल्हन के परिवार वाले नया टोला फुलवारी में रहते थे लेकिन शादी दूल्हा मो राजा के घर पर ही हो रहा था। दोनो परिवार रिश्तेदार भी थे जिससे ईसापुर रहमत नगर में ही शादी ब्याह की रस्में निभाई ज रही थी। शहनाई और बाजों के साथ गीत संगीत के बाद निकाह पढ़ाई गयी।दावतों के साथ ही मेहमानों के लिए कव्वाली का भी आयोजन था। दूल्हा दुल्हन और मुहल्ले वालों के साथ नाते रिश्तेदारों से आये लोग खुशियां मना रहे थे। उससे पहले हल्दी मेहंदी और चुमावन की रस्मो में दूल्हा दुल्हन की माँ और अन्य परीजनो में दोनो की लम्बी उम्र की दुआएं मांगी और नज़रें भी उतारी थी । शादी ब्याह के माहौल में हर कोई खुशी में झूम रहा था.

दूल्हे मो राजा इलेक्ट्रिशियन का काम करता था और परिवार का सबसे बड़ा कमाऊ पुत्र था। उसके मित्रो और परिवार के लोगो ने बताया कि निकाह दावत और कव्वाली की रस्मो के बाद बड़े अरमानो से जिंदगी की नई पारी शुरू करने दूल्हा दुल्हन को सुहाग सेज पर भेजा गया। इस बीच सुबह करीब पांच बजे दुल्हन ने शौहर राजा के शरीर को ठंडा पड़ा देख परिवार के लोगो को जानकारी दी। काफ़ी देर तक जगाने के प्रयासों के बाद भी जब राजा नही उठा और उसके हाथ पांव ठंडे पड़े देख परिवार में चीत्कार मच गया । चंद घन्टो की दुल्हन सिमरन अपने शौहर की हालत देख बिलख पड़ी । इस बीच आनन फानन दूल्हे राजा को शहर के राष्ट्रीय गंज स्थित एक निजी क्लिनिक ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने बताया कि राजा की मौत हो चुकी है। दूल्हे की मौत को खबर सुनकर परीवार में रोना पीटना मच गया। दूल्हे राजा की मौत अचानक कैसे हो गयी इसके बारे में तरह तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया । कुछ हार्ट अटैक से उसकी मौत होंने की बातें भी कर रहे थे। दूल्हे दुल्हन की परिवार में चीत्कार के बीच देर शाम दूल्हे मियां का जनाजा बड़े ही गमगीन माहौल में उठा तो चंद घन्टे तक अपने शौहर के साथ सुहाग सेज पर बिताए पलों को याद कर दुल्हन की आंखे बरसती रही । दूल्हा दुल्हन की मां पिता भाई बहनों और परिवार के सभी लोगो का रो रो कर बुरा हाल हो रहा है। एक बात सभी लोगो की जुबान पर हैं कि अल्लाह की मर्जी के आगे किसी की नही चलती है। हर कोई उस मासूम दुल्हन और उसके हाथों में में रचाई मेहंदी को देख रहे थे जिसका रंग तो सुर्ख था लेकिन उसकी रौनक गायब थी।