फर्जी मुकदमे में फंसाने एवं हथकड़ी लगाकर न्यायालय में पेश करने के मामले में बार एसोसिएशन ने थानाध्यक्ष को बर्खास्त करने की मांग की

दानापुर(आनंद मोहन): दानापुर व्यवहार न्यायालय बार एसोसिएशन उपाध्‍यक्ष नंदकिशोर शर्मा को हथकड़ी लगाकर न्‍यायालय भेजने की नौबतपुर पुलिस की कार्रवाई की अधिवक्‍ता संघ ने गहरी निंदा की है। सोमवार को इसको लेकर संघ के अध्‍यक्ष राजीव रंजन के अध्‍यक्षता में संघ भवन परिसर में अधिवक्‍ताओ की बैठक किया गया। बैठक में अधिवक्‍ताओ ने नौबतपुर थानाध्‍यक्ष सम्राट दीपक के द्वारा बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष नन्दकिशोर शर्मा के साथ की गयी कार्रवाई को लेकर पुलिस के वरीय अधिकारी पत्र लिखकर निलंबित करने की मांग की है। इसके साथ ही थानाध्‍यक्ष को बर्खास्‍त करने की मांग बिहार राज्‍य वार कॉउसिंल व वार काउंसिल ऑफ इंडिया से करने का निर्णय लिया गया। संघ के महासचिव अनिल कुमार सिंह ने कहा कि अधिवक्‍ता के साथ नौबतपुर थानाध्‍यक्ष ने र्दुभावना से प्ररित होकर ऐसी कार्रवाई की है। अधिवक्‍ता की क्षतिग्रस्‍त गाड़ी को पुलिस ने जप्‍त तो किया पर अधिवक्‍ता का केस नही किया गया। धक्‍का मारने वाले ट्रक के चालक व खलासी को छोड़ भी दिया गया। अधिवक्ता संघ महासचिव अनिल सिंह ने कहा कि अज्ञात प्राथमिकी में ट्रक से ही कार में धक्‍का मारने की बात कही गयी है। महासचिव अनिल कुमार सिंह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का गाइडलाइन है कि माननीय , नाबालिग , पत्रकार व अधिवक्ता को हथकड़ी लगाकर कोर्ट में पेश करना नहीं है। नौबतपुर थानाध्यक्ष की लापरवाही से अधिवक्ता संघ में रोष व्याप्त है।