पशु काटने पर तनाव, ग्रामीणों ने आरोपित का घर घेरा!

धनबाद: तोपचांची के श्रीरामपुर गांव में एक विशेष समुदाय के घर में शादी समारोह के अवसर पर प्रतिबंधित पशु काटने की सूचना ग्रामीणों को मिली। इसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए। उन्होंने आरोपित का घर घेर लिया। आरोपित ने पिछले दरवाजे से भाग कर थाने में शरण ली.

धनबाद के तोपचांची अंचल के श्रीरामपुर गांव में एक विशेष समुदाय के घर पर शादी के भोज के लिए प्रतिबंधित पशु काटे जाने की सूचना पर गुरुवार को पौ फटने से पहले ही हंगामा खड़ा हो गया। शादी वाले घर के बाहर ग्रामीण जमा होने लगे। इसके बाद निजामुद्दीन अंसारी के घर को घेर लिया। सूचना मिलते ही तोपचांची थाना और हरिहरपुर थाना की पुलिस भागी-दाैड़ी पहुंची। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया। लेकिन ग्रामीण पीछे हटने को तैयार नहीं थे। वे आरोपित को भीड़ के हवाले करने की मांग कर रहे थे। जान बचाने के लिए आरोपित घर के पिछले दरवाजे से भाग निकला। इसके बाद थाने में पहुंच गया। पुलिस द्वारा आरोपित की पत्नी को हिरासत में लेने के बाद ग्रामीण शांत हुए। इस घटना को लेकर श्रीरामपुर गांव में सांप्रदायिक तनाव की स्थिति है। हालांकि स्थिति नियंत्रण में है। गांव में पुलिस कैंप कर रही है.

क्या है मामला-

श्रीरामपुर गांव के एक विशेष समुदाय के घर मे शादी समारोह था। बुधवार की देर रात ग्रामीणों को सूचना मिली कि प्रतिबंधित पशु का कत्ल किया गया है। यह खबर पूरे गांव में फैल गई। इसके बाद गांव के कुछ युवक सच्चाई को जानने के लिए आरोपित के घर पहुंच गए। वहां पर प्रतिबंधित मांस को देखा। यह बात पूरे गांव में फैल गई। गुरुवार तड़के करीब 4 बजे आरोपित के घर के पास ग्रामीण जमा होने लगे। थोड़ी ही देर में भीड़ जमा हो गई। आरोपित के घर के सामने ग्रामीणों ने टायर जलाकर हंगामा शुरू कर दिया। ग्रामीणों का आरोप था कि आरोपित द्वारा प्रतिबंधित पशु की हत्या कर मांस का कारोबार किया जाता है। घटना के समय कुछ लोग मांस खरीदने पहुंचे थे। लेकिन हंगामा होते देख भाग खड़े हुए। इस बीच सूचना मिलते ही पुलिस भी पहुंची। जाने बचाने के डर से आरोपित घर के पिछले दरवाजे से भागते हुए थाना पहुंच गया।