संक्रमण से निजात पाने के लिये निर्भीक होकर टीका लगायें लोग : जिलाधिकारी

अररिया(रंजीत ठाकुर): विश्व योग दिवस के मौके पर सोमवार को जिले के 30 हजार लोगों को कोरोना का टीका लगाने की तैयारी पूरी कर ली गयी है। स्वास्थ्य विभाग, जीविका, आईसीडीएस, ग्रामीण विकास विभाग, जिला कल्याण विभाग सहित संबंधित अन्य विभागों के सहयोग से अभियान को सफल बनाने का हर संभव प्रयास किया गया है। अभियान के तहत निर्धारित लक्ष्य हासिल करने को लेकर रविवार को डीडीसी मनोज कुमार की अगुआई में संबंधित विभाग के वरीय अधिकारियों के साथ अब तक की गयी तैयारियों की गहन समीक्षा की गयी। डीडीसी ने अभियान की सफलता के लिये अधिकारी व कर्मियों के प्रयास को सराहा। उन्होंने क्षेत्र के प्रेरक (मोबिलाइजर) की भूमिका को अभियान की सफलता में महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि हमें हर हाल में अपने उत्साह व हौसले को बरकरार रखते हुए अभियान की सफलता का अंत तक प्रयास करना है। बैठक में सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता, डीआईओ डॉ मोईज, डीपीओ आईसीडीएस सीमा रहमान, डीपीएम स्वास्थ्य रेहान असरफ, सभी पीएचसी प्रभारी, जीविका व आईसीएस के अधिकारी व संबंधित विभागों के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

निर्भीक होकर टीकाकरण के लिये आगे आये लोग : डीएम

जिलाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच ने विशेष टीकाकरण अभियान में भाग लेकर अपना टीकाकरण सुनिश्चित कराने की अपील आम जिलावासियों से की है। जिलाधिकारी ने कहा जिले को कोरोना संक्रमण से जुड़ी चुनौतियों से निजात दिलाने के लिये टीकाकरण अभियान की सफलता महत्वपूर्ण है। उन्होंने जिलावासियों को किसी शंका व संदेह से परे हट कर निर्भीक होकर कोरोना का टीका लगाने की अपील की। उन्होंने कहा कि कोरोना का टीका पूरी तरह सुरक्षित है। ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोरोना का टीका लगाने के लिये प्रशासनिक तौर पर सभी जरूरी इंतजाम किये गये हैं। ताकि लोगों को टीका लेने में किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े।

सभी 9 प्रखंडों में 341 स्थलों पर होगा सत्र का आयोजन :

जिलाधिकारी की अगुआई में संचालित मिशन 30 हजार अभियान की सफलता के लिये जिले के सभी नौ प्रखंडों में कुल 341 चिह्नित स्थलों पर टीकाकरण सत्र स्थल का आयोजन किया जायेगा। इस संबंध में सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता ने कहा कि अधिक से अधिक लोगों को कोरोना का टीका लगाने के लिये सत्र स्थलों पर सभी जरूरी इंतजाम किये गये हैं। सभी सत्र स्थलों पर 10 मोबिलाइजर होंगे। जो क्षेत्र में टीकाकरण के लिये लोगों को प्रेरित करने का काम करेंगे। इसके साथ ही सभी सत्र स्थलों पर सत्र प्रभारी प्रतिनियुक्त होंगे। पांच सत्र स्थलों पर एक जोनल अधिकारी बहाल किये गये हैं। जो लगातार सत्रवार अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण सुनिश्चित कराने के लिये हर संभव प्रयास करेंगे।

फारबिसगंज में 60 जगहों पर होगा सत्र :

डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ ने अभियान की जानकारी देते हुए कहा कि अभियान के तहत प्रति सत्र स्थल कम से कम 100 लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिये फारबिसगंज में सबसे अधिक 60 स्थानों पर टीकाकरण सत्र का आयोजन किया जायेगा। अभियान के तहत सिकटी प्रखंड में 34 स्थानों पर, रानीगंज में 40 स्थानों पर अररिया में 40 स्थानों पर, भरगामा में 35 स्थलों पर, पलासी प्रखंड में 30 स्थानों पर, नरपतगंज में 40 स्थानों पर, कुर्साकांटा में 30 स्थानों पर व जोकीहाट प्रखंड में 32 स्थानों पर टीकाकरण सत्र स्थल का आयोजन किया जायेगा। सुबह 08 बजे से शाम 05 बजे तक सत्र स्थलों पर टीकाकरण का इंतजाम होगा।

जिले में 62 हजार कोरोना टीका का डोज उपलब्ध :

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मोईज ने कहा कि जिले अभियान को लेकर जिलाधिकारी के प्रयास से जिले को पर्याप्त संख्या में कोरोना का टीका उपलब्ध कराया गया है। जिले में कोरोना टीका का 62 हजार डोज उपलब्ध है। आवश्यकता के अनुसार सभी सत्रों को टीका उपलब्ध कराया गया है। अभियान के दौरान किसी भी सत्र पर टीका की कोई कमी नहीं आने नहीं दी जायेगी। साथ ही एईएफआई से संबंधित किसी भी मामले से निपटने के लिये हर जरूरी तैयारी सुनिश्चित किये जाने की बात उन्होंने कही।

जिले में 62 हजार कोरोना टीका का डोज उपलब्ध :

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मोईज ने कहा कि जिले अभियान को लेकर जिलाधिकारी के प्रयास से जिले को पर्याप्त संख्या में कोरोना का टीका उपलब्ध कराया गया है। जिले में कोरोना टीका का 62 हजार डोज उपलब्ध है। आवश्यकता के अनुसार सभी सत्रों को टीका उपलब्ध कराया गया है। अभियान के दौरान किसी भी सत्र पर टीका की कोई कमी नहीं आने नहीं दी जायेगी। साथ ही एईएफआई से संबंधित किसी भी मामले से निपटने के लिये हर जरूरी तैयारी सुनिश्चित किये जाने की बात उन्होंने कही।