कोरोना वैक्सिन ट्रायल में 25 बच्चे ही रजिस्ट्रेशन के लिए पहुंचे एम्स

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): कोरोना वैक्सिन ट्रायल में शनिवार को 25 बच्चे ही रजिस्ट्रेशन के लिए पटना एम्स पहुंचे। वहीं शुक्रवार को पहले दिन कुल 42 बच्चों का रजिस्ट्रेशन हुआ था।कोविड 19 संक्रमण में अब तीसरी लहड़ से सबसे ज्यादा बच्चों को प्रभावित होने के संभावित खतरे को देखते हुए पटना एम्स में वैक्सीन ट्रायल का ट्रायल शुरु हो गया है । ऐसे में ज्यादा से ज्यादा बच्चों पर वैक्सीन ट्रायल करने की जिम्मेवारी एम्स की है। एम्स प्रशासन लोगो से अपील कर रहा है कि बच्चों के वैक्सीन ट्रायल से न डरें अभिभावक । इस वैक्सीन ट्रायल से बच्चों को कोई खतरा नहीं है । कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों को बचाना है तो आइये पटना एम्स   पटना एम्स के कोवैक्सीन ट्रायल के प्रिंसिपल इंवेस्टिगेटर डॉ सी एम सिंह ने बताया कि वैक्सिन ट्रायल में बच्चों को बीमार होने या किसी प्रकार से भी कोई हानि नही होगी । डॉ. सीएम सिंह ने बताया कि बच्चों के परिजनों को उनके आने-जाने के खर्च के रूप में ₹700 प्रति बच्चे दिए जा रहे हैं। टेस्ट से लेकर वैक्सीनेशन तक और अंतिम प्रक्रिया तक दो बार में 700-700 रुपए दिए जाएंगे।