पीएम मोदी के मन की बात के 77वें संस्करण को रेडियो पर सुना

अररिया(रंजीत ठाकुर): मोदी सरकार के 7 वर्ष पूरा होने पर कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवीण कुमार ने अपने फ़ारबिसगंज स्तिथ निवास पर आस पास के युवाओं संग पीएम मोदी के मन की बात के 77वें संस्करण को रेडियो पर सुना एवं उनके विचारों को आत्मसात करने का संकल्प लिया। प्रदेश उपाध्यक्ष श्री कुमार ने बताया कि पीएम मोदी ने अपने मन की बात के कोरोना महामारी, ताऊते और यास तूफान की चर्चा करते हुए कहा कि चुनोती कितनी भी बड़ी हो भारत के विजय का संकल्प उतना ही बड़ा रहा है।सेवाभक्ति ओर अनुशासन ने देश को हर संकट से निकाला है।उन्होंने आपदाओं में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए वैश्विक महामारी कोरोना के संकट काल मे जल थल नभ के सेना के जवानों सहित फ्रंटलाइन वर्कर डॉक्टर ,नर्स, हमारे टेंकर और ट्रेन ड्राइवर ने भी आगे आकर अपना कर्तव्य निभाया आज भी निभा रहे है उनके हौसले और जज्बे को सलाम किया कहा कि पूरा देश को उन पर गर्व है.

प्रदेश उपाध्यक्ष श्री कुमार ने बताया कि अपने मन की बात में पीएम ने संकट काल मे किसानों द्वारा रिकार्ड अन्न उत्पादन की सराहना की तो इस काल मे भी गरीब घर चूल्हे जलते रहे इसके लिए 80 करोड़ लोगों के बीच गरीब कल्याण अन्न योजना चलाने का जिक्र किया। वही पीएम ने कहा कि यह संयोग ही है हमारी सरकार के 7 वर्ष पूरे हो रहे है कहा की आज का भारत दूसरे देशों के दबाब में नही बल्कि अपने संकल्प से चल रहा है भारत अपने खिलाफ साजिश करने वालों को मुँहतोड़ जबाब देता है.

कहा कि इन 7 वर्षों में देश सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र से चला है। जो उपलब्धि रही है वो देश की रही है, पीछले 2 बर्षो में जल जीवन मिशन के तहत सुदूर गाँव मे साढ़े 4करोड़ घरों में शुद्ध पानी का नल पहुँचाया गया। डिजिटल लेनदेन में नई दिशा दिखाई है,इन सात सालों में रिकार्ड सेटेलाइट भेजे जा रहें है, रिकार्ड सड़कें निर्माण हो रही है पूर्वोत्तर से लेकर कश्मीर तक विश्वास का नया माहौल बना है,और हमने बर्षो पुरानी विवाद शांति के साथ सुलझाएं है।उन्होंने कहा कि जहाँ सफलताएं है वही परीक्षाएं भी दी है।और हर बार मजबूत होकर निकले है इस वैश्विक संकट से भी सफलता प्राप्त करेंगे. इस मौके पर पूर्व नगर अध्यक्ष सुनील मिश्रा राकेश साह रवि साह प्रतीक कुमार, रोहित साह, कृष्णा साह आदि मौजूद थे।