पटना में आंधी-तूफान के साथ तेज बारिश हुई, किसानों का नुकसान उमस से मिली राहत!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): मंगलवार को पटना सहित आसपास के कई हिस्सो में जोरदार आंधी बारिश के साथ मौसम सुहाना हो गया । अचानक दोपहर बाद आई तेज रफ्तार आंधी पाने से किसानों को खेतों में फसल को लेकर काफी नुकसान हुआ है वहीं लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली । एक तरफ कोरोनावायरस से देश में त्राहि-त्राहि मची है वहीं दूसरी तरफ प्राकृतिक आपदा के काले बादल मंडरा रहे हैं बिहार में अचानक से मौसम ने करवट बदल ली और पूरे प्रदेश में तेज आंधी और गरज चमक के साथ बारिश होने लगी । तूफान के साथ हो रही बारिश इतनी जोरदार रही कि खेतों में बारिश का पानी भर गया है। वहीं, आसमान में बिजली की चमक के साथ बादलों की तेज गड़गड़ाहट भी होती रही । इस आंधी बारिश से किसानों की बची उम्मीदें भी अब पूरी तरह से खत्म हो गई हैं क्योंकि खेतों में लगी उनकी फसल अब पूरी तरह से नष्ट हो गई है। बता दें कि मौसम विभाग ने पहले ही पूरे प्रदेश में तेज आंधी और गरज-चमक के साथ बारिश होने की चेतावनी जारी की थी.

हाल के दिनों में चक्रवाती तूफान यास के कारण लगातार हुई भारी बारिश और आंधी ने फुलवारीशरीफ में टमाटर की खेती करने वाले किसानों की कमर तोड़ दी है. क्षेत्र के बड़े भू-भाग पर लगी किसानों की टमाटर की फसल बर्बाद हो गई है. अब उन्हें लागत निकलना भी मुश्किल दिख रहा है.किसानों ने बड़े पैमाने पर टमाटर की खेती की थी. कोविड-19 के दौरान पिछले डेढ़ साल में किसानों की हालत काफी खस्ता हो चुकी है. इस खेती से किसानों को नुकसान की भरपाई की पक्की उम्मीद थी. अचानक मौसम ने करवट बदली और जबरदस्त बारिश हो गयी. इससे पूरे इलाके में खेत जलमग्न हो गये.इस बारिश से फसलें पूरी तरह चौपट हो चुकी हैं. किसान बताते हैं इस बार खेतों में अच्छी फसल लगी थी. अच्छी आमदनी का भी अनुमान था लेकिन पहले तो करोना और लॉकडाउन ने किसानों की मेहनत पर पानी फेर दिया।