जनविश्वास यात्रा में सीएम योगी ने 2022 के लिए जनता से मांगा आशीर्वाद

 जनविश्वास यात्रा में सीएम योगी ने 2022 के लिए जनता से मांगा आशीर्वाद
Advertisement

यूपी(न्यूज़ साभार): पीलीभीत भारतीय जनता पार्टी की पीलीभीत में जनविश्वास यात्रा में उमड़ी भीड़ को देखकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गदगद हो गये। उन्होंने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि उप्र का नागरिक अपनी पहचान के संकट से जूझ रहा था।पांच साल पहले उप्र में अराजकता, गुण्डागर्दी, भ्रष्टाचार चरम पर था। भाजपा सरकार में इस पर विराम लगा है। हमारी सरकार में सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के आधार पर कार्य हो रहा है। आज हर क्षेत्र में उप्र तेजी से आगे बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री योगी ने जनता से 2022 के लिए आशीर्वाद भी मांगा।उन्होंने कहा कि विभिन्न परियोजनाओं के साथ ही यहां एक मेडिकल कॉलेज भी बनने जा रहा है। इसके लिए पीलीभीतवासियों को बधाई देता हूं। जनप्रतिनिधियों को बधाई एवं धन्यवाद देता हूं। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आज पीलीभीत में 380 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया जा रहा है। इसमें मेडिकल कॉलेज, छह हाईस्कूल, पेयजल योजना आश्रय स्थल,आईटीआई पीलीभीत और जिला अस्पताल से जुड़ी योजनाएं हैं।

Advertisement
Advertisement

मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच साल पहले उप्र में अराजकता, गुण्डागर्दी, शोषण करना और सर्वत्र पहचान का संकट था। किसान आत्महत्या करने को मजबूर था, युवा परेशान था, बच्चियों के सामने सुरक्षा का संकट था। पर्व एवं त्यौहारों के समय दंगे हो जाते थे। 2017 में प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर जनता ने भाजपा को आशीर्वाद दिया। भाजपा की सरकार बनने के बाद सबसे पहले काम किसानों की कर्जमाफी का हुआ। 86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये का कर्जमाफी किया गया। हम लोगों ने उस समय जिस कार्यपद्धति को आगे बढ़ाया वह किसी से छिपा नहीं है।
आज प्रदेश में कोई दंगा नहीं कर सकता। दंगाइयों को पता है कि दंगे में हुए नुकसान की भरपाई करते-करते उनकी सात पीढ़ियां खप जाएंगी। यह सरकार दंगा करने वालों को नहीं बल्कि गन्ना किसानों को उत्साहित करने का काम करती है। पिछली सरकारें दंगाइयों को प्रोत्साहित करती थीं। आतंकियों के मुकदमें वापस लेते थे। सरकारी नौकरी निकलते ही पूरा परिवार वसूली के लिए निकल पड़ता था। पूरे कार्यकाल में एक भी भर्ती ईमानदारी के साथ नहीं हो पायी। भाजपा सरकार में करीब पांच लाख युवाओं को पारदर्शी व्यवस्था के तहत सरकारी नौकरी दी गयी। ओडीओपी योजना के तहत परम्परागत उद्योग को बढ़ावा दिया। आपकी मुरली को भगवान कृष्ण बजाया करते थे। पांच हजार साल पुरानी मुरली की परम्परा को पिछली सरकारों ने भुला दिया था। आज हमारी सरकार में बांसुरी की जिक्र होते ही पीलीभीत की बांसुरी की चर्चा शुरू हो जाती है। अब आपको नौकरी, रोजगार के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। यह जनविश्वास यात्रा इसी के लिए है। आपका आशीर्वाद चाहिए ताकि उत्तर प्रदेश को नम्बर एक बनाया जाए।

Advertisements

न्यूज़ क्राइम 24 संवाददाता

Related post