कोविड काल में ग्रामीण क्षेत्रों में विकास का कार्य ठप, सड़कें टूटी व जर्जर नहीं हो रही है निर्माण कार्य!

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज प्रखंड के सीमावर्ती क्षेत्र अंतर्गत बरसों से टूटे व जर्जर सड़कों का निर्माण व मरम्मती कार्य नहीं होने से आने वाले बरसात के समय सारे रास्ते अवरुद्ध होने की आशंका ग्रामीणों को सता रहा है. इसी बात को लेकर सीमावर्ती क्षेत्र नवाबगंज पंचायत के आसपास के ग्रामीणों का कहना है कि बर्ष 2017 में आई प्रलयंकारी बाढ़ ने सारे रास्ते को तहस-नहस कर दिया था जिसे आज तक किसी पदाधिकारी या जनप्रतिनिधि ने कभी ध्यान नहीं दिया, केवल आश्वासन ही आश्वासन मिलता जा रहा है। टूटे स्थानों पर मिट्टी भरकर यातायात बहाल तो किया लेकिन पुल निर्माण कार्य अब तक नहीं हुआ। विकास के नाम पर क्षेत्र के लोगों को सिर्फ ठगने का काम किया जा रहा है। खबर के माध्यम से हम लोग सरकार को अवगत कराना चाहते हैं, कि इस क्षेत्र का उच्च स्तरीय जांच हो ताकि विकास की पोल खुल सकें.

जबकि नवाबगंज पंचायत के सीमावर्ती गांव कोशिकापुर से फुलकाहा बाजार होते हुए लक्ष्मीपुर वीरपुर बथनाहा रोड तक जाने वाली सड़क कई वर्षों पूर्व से जर्जर व टूटे हैं कई जगह बाढ़ के समय सड़क बह गई लेकिन आज तक ना तो किसी पदाधिकारी ना ही कोई जनप्रतिनिधि इस सड़क को देखने की जरूरत समझें।यही हाल लक्ष्मीपुर रोड से प्रखंड मुख्यालय नरपतगंज जाने वाली सड़क का है। बर्ष 2017 में बाढ़ के समय ही सड़क उखड़ गए लेकिन किसी ने सुध नहीं लिया। जबकि इस सड़क से प्रखंड मुख्यालय से सभी पदाधिकारी का आना जाना लगा रहता है, लेकिन इस पर किसी का ध्यान नहीं है। ग्रामीणों का कहना है कि ऐसा लगता है कागजों पर ही सड़क का मरम्मत कार्य होकर रह जाता है.


क्या कहते हैं समाजसेवी मदन ठाकुर:-

उन्होंने बताया कि रोड निर्माण लगभग बर्ष1980 में किया गया था। तत्कालीन विधायक नरपतगंज जनार्दन यादव के द्वारा तब से लेकर आज वर्तमान तक सड़क को देखने वाला कोई नहीं है जबकि इस सड़क में तीन आरसीसी पुल की आवश्यकता है।
क्या कहते हैं व्यापारी व समाजसेवी बीरेंद्र दास:-
इस बाबत बीरेंद्र दास ने बताया कि कई वर्षों से यह सड़क का बुरा हाल बना हुआ है। सड़क का निर्माण लगभग 80 के दशक में हुआ था लेकिन आज तक किसी जनप्रतिनिधि ने सुध नहीं लिया। जबकि हम व्यापारियों को इसी सड़क से सामान की ढुलाई करना पड़ता है। सड़क जर्जर होने के कारण भाड़े अधिक लगते हैं। हमलोग खबर के माध्यम से जिला पदाधिकारी अररिया एवं पथ निर्माण विभाग पदाधिकारियों से कहते है कि बरसात आने से पहले सड़क की मरम्मत करवा दे ताकि बरसात के समय आम लोगों को परेशानी नही हो।