पैसेंजर वाहन मालिकों द्वारा मनमाना भाड़ा वसूलने के विरोध में लोगों का प्रदर्शन

अररिया(रंजीत ठाकुर): पैसेंजर वाहन मालिकों द्वारा मनमाना भाड़ा वसूलने के विरोध में आज फुलकाहा बाजार के ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने बताया कि लॉकडाउन से पूर्व जो भाड़ा निर्धारित था,आज उसका दुगुना भाड़ा देना पड़ रहा है, जबकि वाहन मालिकों द्वारा कोविड-19 के नियमों का पालन भी नहीं किया जाता है. फुलकाहा बाजार के मदन ठाकुर ने बताया कि संपूर्ण देश में जब लॉकडाउन लगा था,उस समय सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए आधे से भी कम पैसेंजर ले जाया जाता था और तब भाड़े में बढ़ोतरी की गई थी। लॉकडाउन से पूर्व फुलकाहा बाजार से फारबिसगंज जिसकी दूरी 18 किलोमीटर है, तो ऑटो द्वारा ₹20 भाड़ा लिया जाता था। लोक डाउन के दौरान यह 40 से ₹50 हो गया और आज जबकि लॉकडाउन खत्म हो चुका है और पूर्व की भांति 10 से 14 पैसेंजरों को बैठाकर ले जाया जाता है,तब भी भाड़ा 40 रुपये है,जिसपर किसी भी पदाधिकारी की नजर नहीं है। यही हाल करीब-करीब फारबिसगंज अनुमंडल क्षेत्र के सभी स्थानों का है। डीजल के रेट में इतनी बढ़ोतरी तो नहीं हुई की भाड़ा को दोगुना कर दिया जाए।
वहीं सुरेश दास बताते हैं कि भाड़ा को लेकर कई बार पैसेंजरों से वाहन चालकों या मालिकों से नोकझोंक भी हो जाती है, परंतु वे एक पैसा कम लेने को तैयार नहीं है। लोग कोरोना महामारी को लेकर पहले से ही आर्थिक रूप से परेशान हैं, ऊपर से कोरोना के नाम पर बढ़ाए गए भाड़े से लोगों का शोषण हो रहा है।
वहीं उपस्थित लोगों का कहना था की भाड़े से संबंधित कोई दर तालिका सरकार द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर क्यों नहीं लगाया गया है ताकि वाहन मालिकों द्वारा शोषण से लोग बच सके। इस हेतु ग्रामीणों ने फारबिसगंज अनुमंडल पदाधिकारी को सामूहिक आवेदन देने की बात कही.

वहीं एक सेवानिवृत्त शिक्षक ब्रजकिशोर राम ने बताया कि कल जब मैं किसी आवश्यक काम से फुलकाहा से फारबिसगंज के लिए टेंपो पर बैठा तो टेंपो चालक ने हमसे ₹40 भाड़ा वसूल किया साथ ही ओवरलोडिंग पैसेंजर को भी बैठा लिया, जबकि फुलकाहा से फारबिसगंज की दूरी मात्र 18 किलोमीटर है और भाड़ा ₹40 लिया जाता है। जिससे मेरा आर्थिक नुकसान भी होता है. वहीं लोगों ने कहा कि यदि हमारी समस्या नहीं सुनी गई,तो सरकार के समक्ष अपनी बात पहुंचाने के लिए आंदोलन को मजबूर होंगे।
वहीं कुछ ऑटो चालकों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि हम लोगों द्वारा इसका विरोध किया गया कि भाड़ा को कम किया जाए, इस पर अधिकांश वाहन मालिकों एवं चालकों ने भारी विरोध जताया। इस प्रदर्शन में मदन ठाकुर,गजेंद्र प्रसाद साह,समीम रजा,कार्तिक साह मोहम्मद नईम, सुरेश दास, मुन्ना साह,परमानंद साह,बालचंद बदलिया,शुभम कुमार साह,रोहित गुप्ता,कुंदन कुमार साह, प्रकाश साह आदि दर्जनों लोग मौजूद थे।