हैवान डीएसपी पति को सजा दिलाने को पत्नी ने कमर कसी

पटना(आनंद मोहन): केंद्रीय सिपाही चयन परिषद के ओ॰एस॰डी॰ कमलाकांत प्रसाद की हैवानियत ने बिहार पुलिस को शर्मसार कर दिया है। एक बार फिर से कमलाकांत प्रसाद सुर्खियों में हैं। जिनके विरुद्ध गया जिला के इमामगंज महिला थाने में फोक्सो एक्ट सहित एसी एसटी के तहत बीते सप्ताह मामला दर्ज किया गया है , जिसका कांड संख्या गया जिला के इमामगंज के महिला थाना में 18/2021 दर्ज है। और मंगलवार को नाबालिग पीड़ित का न्यायालय में ब्यान भी कलम बंद कराया गया है, दानापुर अनुमंडल अंतर्गत के रूपसपुर गोला रोड के मछली तालाब में रहने वाली डीएसपी कमलाकांत प्रसाद की पत्नी आनन्द तनुजा ने अपने पति पर लगे आरोप को सही माना है। उनका कहना है की उनके पति नाबालिग लड़कियों के यौन शोषण के आदि है और कई बार विरोध करने के वजह से उन्हें प्रताड़ित भी किया गया है। जिसका एक मामला रूपसपुर थाने में भी दर्ज किया गया है। जिसका कांड संख्या 58/2020 दर्ज है। इनके ऊपर गोपालगंज में भी 5 जून 2014 को भी न्यायालय में परिवाद पत्र दायर किया गया है.

एसपी की पत्नी आनंद तनुजा ने बताया कि वो 2019 में ही अपने पति के कारगुज़ारी का कच्चा चिट्ठा मुख्य मंत्री से लेकर एस॰एस॰पी॰ पटना को दिया गया था जो एक पूर्व डीजीपी के दबाव में दबा दिया गया था लेकिन वर्तमान डीजे एसके सिंघल और कमजोर वर्ग के ADG अनिल किशोर यादव के वजह से उन्हें न्याय मिलने की उम्मीद जगी है, कमलाकांत प्रसाद की पत्नी का दावा है की उनके पति के विरुद्ध यह कोई पहला मामला दर्ज नही हुआ है, और गया में जो दर्ज हुआ है वो CID के आदेश पर। उन्होंने अपने जान पर ख़तरा की आशंका जतायी है और सुरक्षा की माँग की है। आनंद तनुजा ने बताया कि सरकार और प्रशासन से मांग है कि दबंग डीएसपी कमलाकांत प्रसाद पर उचित से उचित कार्रवाई की जाए ताकि ऐसे दरिंदे फिर किसी लड़की को अपने हवस का शिकार ना बनाएं। अब देखना होगा कि कब तक डीएसपी कमलाकांत प्रसाद को पुलिस गिरफ्तार कर पाती है।