केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एम्स पटना में कोविड वैक्सीन लगवाया

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): भारत सरकार के विधि व न्याय, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री सह सांसद, पटना साहिब रविशंकर प्रसाद ने देशव्यापी कोविड वैक्सीनेशन अभियान के दूसरे चरण के दूसरे दिन मंगलवार को पटना एम्स में कोविड वैक्सीन का टीका लिया. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पटना एम्स में कोविड वैक्सीन टीकाकरण के उपरांत रु. 250 की सहयोग राशि भी जमा कराई.

पत्रकारों से बातचीत में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि पीएम की यह अपेक्षा थी कि सभी केंद्रीय मंत्री अपने-अपने क्षेत्र में जाकर टीका लगवाए और इसके प्रति जागरूकता फैलाये. इसके बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल परिषद के सभी सदस्यों (मंत्रियों) ने यह स्वैच्छिक निर्णय किया था कि वे सभी मुफ्त में कोरोना वैक्सीन नही लेंगे, इसके लिए निर्धारित कीमत रु 250 की सहयोग राशि भुगतान करेंगे.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक बहुत निर्णायक फैसला किया था कि सबसे पहले कोविड वैक्सीनेशन का टीका डॉक्टर, नर्स ,एम्बुलेंस ड्राइवर, सफाई कर्मचारी, सुरक्षाकर्मी आदि को लगेंगे,जो कोरोना वारियर्स है. उसके बाद दूसरे चरण में 60 वर्ष से ऊपर के देशवासियों को कोरोना वैक्सीन लगाया जा रहा है जिसकी शुरुआत सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वयं कोरोना टिका लगवा कर किया है.

श्री प्रसाद ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सरकार के निर्णय का अभिनंदन किया जिसके अंतर्गत बिहार में सभी को मुफ्त में वैक्सीन लगवाने की सुविधा उपलब्ध कराई गई है. साथ ही श्री प्रसाद ने सभी बिहार के लोगो से आग्रह किया की वो बढ़-चढ़ कर कोरोना का टीका लगाए और एक नई जागरूकता का परिचय दे. श्री प्रसाद ने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई में देश मे कोरोना के खिलाफ रोकथाम और जागरूकता हेतु आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत बनी कोरोना वैक्सीन सिर्फ भारत मे ही नही अपितु अन्य दर्जनों देशों में भी जनता के टीकाकरण हेतु उपयोग में लायी जा रही है