ठंड के चलते तीन लोगों की गयी जान, सरकार ने शीतलहर से बचाव का जारी किया अलर्ट

 ठंड के चलते तीन लोगों की गयी जान, सरकार ने शीतलहर से बचाव का जारी किया अलर्ट
Advertisement

बोकारो(न्यूज़ क्राइम 24): ठंड के चलते बोकारो और धनबाद में तीन लोगों की जान चली गई। रविवार की रात बेरमो के कुर्रा गांव के 59 वर्षीय सपन गायन ने दम तोड़ दिया।सोमवार को बोकारो के गोमिया प्रखंड के कोठीटांड़ में पांच वर्षीय बच्चे की मौत हो गई। वहीं धनबाद में 50 साल के दिहाड़ी मजदूर चल बसे। लगातार बढ़ रही ठंड के बीच राज्य सरकार ने शीतलहर से बचाव का अलर्ट जारी किया है। सभी जिलों के उपायुक्तों और सिविल सर्जन को ठंड से बचाव के विशेष उपाय करने के निर्देश दिए गए हैैं। केंद्र की ओर से जारी गाइडलाइन का भी पालन करने को कहा गया है। उधर, राज्य के सभी हिस्सों में सोमवार को ठंड और कनकनी बढ़ी रही।कोठीटांड और कुर्रा गांव में ठंड से एक-एक की माैत।कोठीटांड़ में बच्चे के पिता नारायण पासवान ने बताया कि ठंड लगने से उसे उल्टी व दस्त होने लगा। सुबह पास के अस्पताल ले गए। वहां से बीजीएच भेजा गया, मगर चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। उधर कुर्रा गांव के सपन की मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने कहा कि वह अकेला रहता था।

Advertisement

परिवार में सिर्फ बेटी है, जो धनबाद में ससुराल में रहती है। उसे मधुमेह व उच्च रक्तचाप भी था। उसका नाम प्रधानमंत्री आवास योजना की सूची में था। पंचायत सचिव व चास प्रखंड कार्यालय की ओर से कहा गया कि पहले अपना मकान तोड़ दो। तस्वीर खिंचवा लो, तब मकान के लिए योजना का पैसा मिलेगा। पक्के मकान का सपना देखकर सपन ने खुद अपना मकान तोड़ दिया। छह माह से कार्यालयों में दौड़ रहा था, बीडीओ से मिन्नत करता रहा, मगर मकान नहीं मिला। छत छिन जाने से वह इस ठंड में इधर-उधर भटक रहा था। पूरे गर्म कपड़े भी नहीं थे। बीमार था ही, ठंड ने उसे और तोड़ दिया। शव पर केवल एक कंबल था। इससे पता चलता है कि ठिठुरन से उसे कंबल नहीं बचा सका। हालांकि प्रशासन के लोग ठंड से माैत मानने को तैयार नहीं हैं। चास के बीडीओ मिथिलेश चाैधरी ने बताया कि सपन की ठंड से मौत नहीं हुई। वह बीमार था। एक सप्ताह पूर्व उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसकी स्थिति ठीक नहीं थी। कुछ तकनीकी गड़बड़ी से पैसा उसके खाते में नहीं जा सका था।

Advertisements
Advertisement

मुराईडीह कालोनी में दिहाड़ी मजदूर ने दम तोड़ा।धनबाद के मुराईडीह कालोनी में दिहाड़ी मजदूर अनिल गोप के घरवालों का कहना है कि ठंड लगने से उनकी जान चली गई है। बरोरा थाना की पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि अनिल साइकिल से सीमेंट लेकर जा रहा था। मुराईडीह न्यू वाशरी कालोनी के पास गिर पड़ा। जब तक लोग वहां पहुंचे, उसकी मौत हो चुकी थी। कालोनी के पास एक झोपड़ी में वह पत्नी व तीन बच्चों के साथ रहता था। चार दिनों से तबीयत खराब रहने के बावजूद काम करने के लिए निकला था।मैकलुस्कीगंज का पारा 0.5 सेल्सियस।रांची के मैकलुस्कीगंज में न्यूनतम तापमान 0.5 सेल्सियस पर पहुंच गया। यहां घास और पुआल पर ओस जमने लगी है। वहीं कांके का न्यूनतम तापमान 3.2 और रांची का तापमान 6.7 डिग्री दर्ज किया गया। राज्य के कई जिलों में तापमान सात डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है। रांची, रामगढ़, हजारीबाग, चतरा, कोडरमा, गढ़वा, लातेहार, पलामू, लोहरदगा, गढ़वा, बोकारो आदि जिलों में ज्यादा ठंड है। मौसम विभाग ने मंगलवार को भी इन जिलों में न्यूनतम तापमान 4 से 5 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई है।

न्यूज़ क्राइम 24 संवाददाता

Related post