नरपतगंज से लक्ष्मीपुर जाने वाली सड़क, बरसों बीत गए, क्षतिग्रस्त व जर्जर सड़क का नहीं हुआ कायाकल्प

अररिया(रंजीत ठाकुर): अररिया जिला अंतर्गत नरपतगंज प्रखंड मुख्यालय से मिर्जापुर होते हुए लक्ष्मीपुर जाने वाले मुख्य सड़क बरसों से है जर्जर विभागीय पदाधिकारी सहित जनप्रतिनिधि बने हुए हैं मूक दर्शक।

मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2008 में आई प्रलयंकारी बाढ़ ने क्षेत्र के सड़कों का सूरत बदल कर रख दिया था, जबकि बाढ़ के बाद लगभग क्षेत्र के सभी सड़कों का मरम्मत व निर्माण कार्य किया गया। परंतु क्षेत्र के लिए इतने महत्वपूर्ण सड़क जो 9 पंचायतों को प्रखंड मुख्यालय से जोड़ने वाली एकमात्र यह सड़क है। जबकि बिहार सरकार माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा विकास की डंका पीटा जा रहा है, तो वहीं इस क्षेत्र के लिए यह सड़क अभिशाप बनकर रह गया है। विधायक से लेकर सांसद तथा मंत्रियों को भी चुनावी दौरे में इसी सड़क से आना जाना किया करते हैं, लेकिन किसी ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया। इसी बात को लेकर आज क्षेत्र के स्थानीय लोगों ने सरकार सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि को कोसते हुए उन्होंने बताया कि विभागीय उदासीनता रवैया एवं तुच्छ राजनीति के कारण यह सड़क का बुरा हाल है। हम लोगों को इसी सड़क से प्रखंड मुख्यालय जाना पड़ता है बरसात के समय सड़क नदियों में तब्दील हो जाता है लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया है। मौके पर बासुदेब मेहता, उमेश मेहता, मुकेश यादव, प्रफुल्ल यादव, आदि दर्जनों लोग उपस्थित थे।

क्या कहते हैं कार्यपालक अभियंता सनोज राम :-

इस बाबत कार्यपालक अभियंता संकज राम ने बताया कि सड़क का स्टीमेट जमा किया गया है ,हो सकता है एक सप्ताह के अंदर आदेश आने पर टेंडर किया जाएगा, और टेंडर के बाद सड़क निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा।