बाप चाय की दुकान चलाने में रहता है और बेटा तमंचा चलाने में माहिर, युवक को मारी गोली!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पटना के फुलवारी शरीफ के ईसापुर में सुम्मा चाय वाले का बेटा शनिवार को देर रात फिर एक लड़के को हत्या करने की नीयत से बुलाकर अपार्टमेंट के पीछे गया और उसे गोली मार दी। अचानक गोली चलने की आवाज सुनकर लोग इधर उधर भागने लगे ,इसी बीच एक युवक की कराहने की आवाजे सुनकर जब लोग वहाँ पहुंचे तो देखा कि राजू मियां का 18 साल का बेटा परवेज खून से लथपथ ते तड़प रहा था। लोगो ने परवेज को गोली लगने की जानकारी उसके घरवालों को दी तो रोते पीटते परिजन पहुंचे। आनन फानन उसे एम्बुलेंस बुलवाकर पटना अस्प्ताल भेजा गया.

घायल परवेज ने इस दौरान परिवार और मुहल्ले वालों को बताया है कि उसे सुम्मा चार वाले का बेटा मो सद्दाम ने गोली मार दिया और फरार हो गया । उधर गोलीबारी की खबर मिलते ही फुलवारी थाना पुलिस के हाथ पांव फूल गए। थाना पुलिस ईसापुर पहुंची और घटना के बारे में लोगो से जानकारी लेकर सुम्मा चाय वाले क घर छापा मारने पहुंची तबतक उसका बदमाश बेटा मो सद्दाम फरार हो चुका था। स्थानीय लोगो ने बताया कि सुम्मा चाय वाले का बेटा को सद्दाम पहले भी कई बार जेल जा चुका है । पुलिस की मिलीभगत से जेल जाने के बाद जमानत पाकर बाहर निकलने पर फिर तमंचा लहराता रहता है। सफेदपोश भु माफियाओं के संरक्षण में सद्दाम ईलाक़े ने अपना सिक्का जमाने के लिए जव चाहे तब तमंचा निकाल फायर करने में नही हिचकता है। लोगों का कहना है कि वह आदतन अपराधी हो गया है। उसका बाप सुम्मा चाय बेचने में लगा रहता है और उसकी आड़ में इसका बेटा सद्दाम गोलियां चलाने का शौक पाले हमेशा फ़ायरिंग करते रहता है। हालांकि लोग बताते हैं कि पहले सद्दाम भी बाप की चाय दुकान में हांथ बंटाता था लेकिन कुछ सालों में उसे गुंडा बनने का सुरुर चढ़ गया और कई आपराधिक वारदातों को अंजाम दे चुका है.

उधर गोली लगने से घायल राजू मियां का बेटा परवेज की हालत अस्प्ताल में नाजुक बताई जाती है। लोगो ने बताया कि घायल परवेज भी हाल के दिनों में गलत संगत के लड़कों के साथ उठना बैठना करने लगा है जिसका परिणाम उसे गोली खाकर मिला। हालांकि सद्दाम परवेज की गोली मार हत्या क्यों करना चाहता है उसका खुलासा नही हो पाया है। पुलिस मामले का कारण और अपराधी को पकड़ने में जुटी है। घायल के परिजन भी कुछ भी बताने से परहेज कर रहे हैं।