7 और 5 साल के दो सगे भाइयों की सौतेली माँ और भाईयों ने कर दी हत्या

 7 और 5 साल के दो सगे भाइयों की सौतेली माँ और भाईयों ने कर दी हत्या

फुलवारी/बिहटा(अजीत यादव): पटना में सौतन और संपत्ति विवाद ने छोटे छोटे दो मासूम भाइयों की हत्या उनके ही सौतेली मां और सौतेले भाइयो ने मिलकर कर दी और दोनों की लाशें अलग अलग इलाके में फेंक दिया। दोनो मासूमो का तीन दिनों पूर्व अपहरण कर लिया गया था जिसके विरोध में नेउरा ओपी ,बिहटा थाना क्षेत्र के शिवाला मोड़ के नजदीक पांडेयपुर के पास पटना खगौल बिहटा मार्ग को जाम कर जमकर आगजनी बवाल किया गया था । प्रदर्शन के दौरान अपहृत बच्चों की माँ ने आरोप लगाया था कि उनके पति विनोद सिंह की पहली पत्नी और दो बेटों ने मिलकर सम्पत्ति विवाद में उनके दोनो मासूम बच्चों का अपहरण किया है। इसके बाद पुलिस टीम ने तीनों आरोपितों को गिरफ़्तार कर जब कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने बच्चों की हत्या करने का अपराध स्वीकार कर लिया । नेउरा थानेदार धर्मेंद्र कुमार ने बताया है कि तीनो गिरफ्तार आरोपितों के निशानदेही पर बिहटा और नेउरा पुलिस ने नौबतपुर के शेखपुरा से दक्षिण सुनसान इलाके से छोटे बच्चे शिवम की लाश बरामद हुई और बड़े बच्चे अनीश की लाश जानीपुर थाना क्षेत्र के पुनपुन नदी बांध किनारे से फेंका हुआ बरामद किया गया । दोनो ही भाइयों की उम्र 7 साल और पांच साल थी। वहीँ कलेजे के दो टुकड़ों की निर्ममता से हत्या करने और उनकी लाशें बरामद होने की जानकारी मिलते ही तीन दिनो से अन्न त्याग बेटों की बरामदगी की गुहार लगा रही अभागन मां का कलेजा फ़ट पड़ा । एक साथ दोनों बेटों की हत्या औऱ लाशें बरामद होने की ख़बर से ग्रामीणों में आक्रोश का माहौल है । वहीं परिजनो का रो रो कर बुरा हाल हो रहा है।मृतक बच्चों की माँ बार बार बेहोश हो जा रही है उसे गांव ज्बवार की महिलाएं सम्भालने में खुद ही बिलखने लगती है। वहीं पुलिस शवों के पोस्टमार्टम कराने में जुट गई है.

पटना में दो सगे भाइयों का अपहरण कर उसकी हत्या कर दिए जाने का मामला सामने आया है। मासूम का शव नदी किनारे में मिला है। अपहरणकर्ताओं ने अपहरण के बाद ही उसकी हत्या कर शव को बोरा में डालकर पुनपुन नदी में फेंका दिया था। घटना पटना के नेउरा ओपी थाना इलाके की है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया है। वहीं हत्या की खबर आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई। हत्या की खबर मिलते ही परिवार में मातम छा गया।बताया जाता है की अपहरणकर्ताओं ने अपहरण के बाद ही उसकी हत्या कर शव को बोरा में डालकर एक को पुनपुन नदी के पास सोन केनाल में फेंक दिया था।और दुसरे को जानीपुर थाना क्षेत्र के धराई चक में रोड किनारे फेक दिया था जिसे पुलिस ने बरामद किया है। पुलिस के मुताविक बिनोद सिंह के द्वारा दो विवाह करने के बाद दोनों पत्नी के बिच संपत्ति विवाद को लेकर हुआ है | पुलिस ने हत्या में शामिल बिनोद कुमार की पहली पत्नी सुनीता देवी और उसके दो पुत्र शौरभ कुमार , गुलशन कुमार को गिरफ्तार कर अन्य सहयोगी की तलाश में जुटी गई है.

वहीं हत्या की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। और ग्रामीणों में गुस्से का आलम है। लाशें बरामद होने के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया। पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू कर दी है। पुलिस ने इस हत्या मामले में शामिल बिनोद कुमार की पहली पत्नी सुनीता देवी उसके दो पुत्र शौरभ कुमार और गुलशन कुमार को गिरफ्तार कर अन्य सहयोगी की तलाश में जुट गई है। पुलिस अधिकारियों ने दावा किया कि इस वारदात को अंजाम देने वाले अन्य अपराधियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।


There is no ads to display, Please add some

News Crime 24 Desk

Related post