नेपाल से तस्करी कर ला रहे डीजल को एसएसबी जवानों ने किया जप्त!

अररिया(रंजीत ठाकुर): सीमावर्ती क्षेत्र में लगातार तस्करी में वृद्धि का मुख्य कारण भारत-नेपाल की खुली सीमा है। एसएसबी जवानों की लाख कोशिशों के बाद भी तस्कर तस्करी के खेल में कामयाब हो जाते हैं। वहीं दूसरा मुख्य कारण भारतीय बाजारों में नेपाल की तुलना में डीजल व पेट्रोल के दामों में भारी अंतर होना। भारतीय बाजारों में डीजल ₹26 प्रति लीटर नेपाल के अपेक्षा महंगा है तो वहीं पेट्रोल ₹23 प्रति लीटर महंगा है,जिस कारण खुली सीमा होने के चलते सीमावर्ती क्षेत्र के लोग नेपाल से डीजल और पेट्रोल लाकर व्यवसाय भी कर रहे हैं।कुछ बेरोजगार युवक भी तस्करी में संलिप्त हैं. इसी कड़ी रविवार 7 मार्च 10:30 बजे सीमा स्तम्भ संख्या- 187/01 कोशिकापुर सीमा के पास नेपाल से बाइक पर चोरी- छिपे से ला रहे 120 लीटर डीजल व बाइक चालक को एसएसबी जवानों ने धर दबोचा.

इस बाबत एसएसबी 56 वीं वाहिनी फुलकाहा बीओपी के इंस्पेक्टर जय शंकर पांडे बताया कि सूचना मिली थी कि कुछ तस्कर नेपाल से प्रतिबंधित समान लेकर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने वाला है।सूचना मिलते ही पार्टी कमांडर हेड कांस्टेबल शंभू नाथ यादव, कॉन्स्टेबल नीलकमल वर्मन, प्रदीप मोरे आदि जवानों ने उक्त पिलर के पास पहुंच कर नाका लगा दिया उसी वक्त नेपाल के तरफ से एक व्यक्ति बाइक लेकर भारतीय क्षेत्र में जैसे ही प्रवेश किया,जवानों ने उसे धर दबोचा। जांच करने पर उक्त व्यक्ति की बाइक पर लदे 120 लीटर डीजल को जवानों ने जप्त कर लिया।उक्त व्यक्ति से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम विकास कुमार यादव,पिता जागेश्वर यादव, ग्राम-कन्हैली,वार्ड-संख्या-05,थाना नरपतगंज,जिला अररिया बताया है। जप्त सामग्री व उक्त तस्कर की कागजी खानापूर्ति के बाद आज सोमवार,8 मार्च को जवानों ने कस्टम कार्यालय फारबिसगंज को सुपुर्द कर दिया। इसकी जानकारी कैंप प्रभारी इंस्पेक्टर जय शंकर पांडे ने दी।