गरीबो बेसहारों के बीच भोजन पैकेट और पानी से सेवा प्रदान की

 गरीबो बेसहारों के बीच भोजन पैकेट और पानी से सेवा प्रदान की
Advertisement
Ad 3
Advertisement
Ad 4
Digiqole Ad

पटनासिटी(न्यूज़ क्राइम 24): लॉकडाउन की परिस्थिति एवं कोरोना माहमारी को देखते हुए पटना साहिब विकास मोर्चा ने लॉकडौन में फुटपाथ पर रहनेवाले बेसहारा लोगो के पास खाने की आभाव को देखते हुए मोर्चा ने 05 मई दिन बुधवार को सभी सदस्यों के साथ संयुक्त बैठक की और ये संकल्प लिया कि 07 मई से लॉकडौन की अवधि तक राहत रसोई के नाम से गरीबो बेसहारों के बीच जाकर उन्हें भोजन पैकेट और पानी से सेवा प्रदान की जाएगी । और दिनांक 07 मई से राहत रसोई सेवा की शुरुआत कर दी गई । जो लगातार लॉकडौन अवधि तक चलेगी इस सेवा में हर दिन एक नया व्यंजन को भोजन कन्टेनर में पैक कर के फुटपाथ पर रहने वाले असहाय लोगो के बीच वितरण किया जाता हैं। साथ ही साथ भोजन वितरण के समय मास्क सेनेटाइजर ग्लव्स एवं दो गज की दूरी का प्रयोग करते हुए लोगो को जागरूक करने का काम भी किया जाता है।परिस्थिति बस लोगो की संख्या बढ़ जाती है तो अगले दिन भोजन पैकेट में वृद्धि किया जाता है। मोर्चा के अध्यक्ष एवं संस्थापक विक्रम शाह और कैप्टन रोहण भारतीय ने अपनी बातों को रखते हुए कहा इस माहमारी में हम जैसे सभी सामाजिक संगठन को मिलकर सभी गरीब , बेघर और बेसहारों का बीड़ा उठाए तो कोई भी व्यक्ति भूख से न मरेगा न भोजन के अभाव में न उनकी स्वास्थ्य बिगड़ेगी । संगठन के सचिव कन्हाई पटेल ने कहा राहत रसोई बेघर और बेसहारा लोगों के लिए उम्मीद की किरण है । साथ ही मोनू मेहता,करण साहनी,रंजीत चौधरी, विक्रम कश्यप, रोहित संजीव ने राहत रसोई को सराहनीय कदम बताते हुए तन मन धन से सेवा देने का संकल्प लिए।

Advertisement
GOLU BHAI
Advertisement
MS BAG
Digiqole Ad

Advertisement
Ad 2

News Crime 24 Desk

Related post

error: Content is protected !!