जन समस्याओं को लेकर प्रदर्शन करने के मामले में माले नेता रामश्रृंगार पासवान गिरफ्तार

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): संपत चक में जन समस्याओं को लेकर प्रदर्शन करने के एक पुराने मामले में गोपालपुर थाना की पुलिस ने भाकपा माले नेता रामश्रृंगार पासवान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। माले नेता रामश्रृंगार पासवान की गिरफ्तारी का विरोध और सरकार से तत्काल रिहाई की मांग करते हुए शनिवार को संपत चक में माले नेताओं व कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकाला और सीएम का पुतला फूंका.

इस मामले में भाकपा माले प्रखण्ड कमिटी सचिव समपतचक सत्यानन्द कुमार ने कहा कि दिनांक 11,10,2019 को सुखाड़ दहाड़ , रामाचक बैरिया में कूड़ा कचड़ा , कसाई ख़ाना से प्रदूषित वातावरण ,जल्ला में जल जमाव के स्थाई समाधान की मांग को लेकर माले नेताओं ने जनता के साथ संपत चक प्रखण्ड मुख्यालय में प्रदर्शन किया था। जिसमे राम श्रृंगार पासवान के ऊपर सीओ समपतचक ने साजिश के मुकदमा दर्ज करा दिया था। उन्होंने बताया कि प्रखण्ड कार्यालय के प्रांगन में उस समय जन समस्याओं के समाधान को लेकर सभा की गई थी उस समय स्थानीय गोपालपुर थाना अध्यक्ष , प्रखण्ड विकास पदाधिकारी एवम सीओ मौजूद थे.
इन अधिकारियों ने आम जनता को सम्बोधित करते हुए आश्वासन दिया था कि सरकार तत्काल सभी को सुखाड़ दहाड़ में राहत, राशन व पानी निकासी , गंदगी के समाधान के लिए व्यवस्था करेगी । इस सम्बंध में एक स्मार पत्र भी मुख्यमंत्री बिहार सरकार के पास समपतचक प्रखण्ड विकास पदाधिकारी के माध्यम से भेज दिया गया था । फिर बाद में जानकारी हमलोग को मिली की अंचलाधिकारी ने प्रदर्शनकारियों पर राहत राशन के बदले केस दर्ज़ करा दिया था की इस प्रदर्शन की लिखीत सूचना नहीं दी थी। माले नेता ने कहा कि यह सरासर गलत है । प्रदर्शन की सूचना 9 अक्टूबर 2019 को दे दी गयी थी। माले नेता राम श्रृंगार पासवान पर झूठा मुकदमा के बारे में जानकारी होने पर इसकी सही जांच कराने के लिए अनुमंडल पदाधिकारी, ज़िला अधिकारी वरिय पुलिस पदाधिकारी के पास आवेदन भी दिया गया था लेकिन उस पर आज तक कोई कारवाई नही हुई है । इतने महीनों बाद उल्टा गरीबों की समस्याओं के लिए किये गए आन्दोलन को दबाने के लिए भाकपा माले प्रखण्ड कमिटी सदस्य व लोकल कमिटी सचिव रामशिगार पासवान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। इस गिरफ्तारी के खिलाफ भाकपा माले प्रखण्ड कार्यालय से विरोध प्रदर्शन जुलूस निकाल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन हुआ है । जिसमें भाकपा माले नेता रासमनी देवी, धनराज पासवान, संदीप कुमार यादव, सुरेश सिंह, बिजेंद्र पंडित, पुष्पा देवी ,शंकर राय, केवल राम, जगदीश आर्य, बबीता देवी ,दिनेश प्रसाद समेत अन्य शामिल रहे। माले नेताओं ने तत्काल कामरेड राम श्रृंगार पासवान को रिहा करने व झूठा मुकदमा वापस लेने की मांग की है।