‘हप्पू सिंह की उलटन पलटन’ की शूटिंग बंद

मुंबई: सुपरहिट सीरियल ‘भाभी जी घर पर हैं’ की तरह ही इस प्रोडक्शन हाउस का एक और सीरियल ‘हप्पू सिंह की उलटन पलटन’ भी दर्शकों को काफी पसंद आता है. कोरोना काल में घर बैठे लोगों के लिए ये शो मनोरंजन का खजाना है, जिसे लोग अपनी पूरी फैमिली के साथ बैठकर एन्जॉय करते हैं. लेकिन कोरोना के चलते फिलहाल इस सीरियल की शूटिंग भी बंद हो गई है. ऐसे में इंस्पेक्टर हप्पू सिंह की बीवी राजेश या कहें कामना पाठक अपने पैतृक घर इंदौर से दूर मुंबई में ही रुकी हुई हैं. आजतक से बात करते हुए कामना पाठक ने ना सिर्फ सीरियल से जुड़ी मजेदार बातें बताई बल्कि कोरोना काल में वो कैसे अपने समय का सदुपयोग कर कर रही हैं वो भी हमसे शेयर किया।सीरियल हप्पू सिंह की उलटन पलटन के बारे में बात करते हुए कामना पाठक कहती हैं कि ‘जब आपके सीरियल को दर्शकों का इतना अच्छा रिस्पॉन्स मिलता है तो वाकई बहुत अच्छा लगता है और महसूस होता है कि आप अपने करियर में एकदम सही जा रहे हैं.उन्होंने आगे कहा, “फिर दिमाग में ये भी ख्याल आता है कि आप अपने काम को और बेहतर कैसे कर सकते हैं. इसलिए मेरी हमेशा ये कोशिश रहती है कि मैं कैसे अपने काम को और बेहतर कैसे कर सकती हूं.’कामना पाठक आगे कहती हैं कि ‘इस सीरियल को करने के बाद मैं अपने अंदर काफी बदलाव महसूस करती हूं. आप जानते होंगे कि मेरी उम्र अभी काफी कम है लेकिन फिर भी मैं सीरियल में 9 बच्चों की मां का किरदार निभा रही हूं और उसमें से भी मेरी एक बेटी कॉलेज जाती है।कामना ने आगे बताया कि जब आप कम उम्र के होकर बड़ी उम्र का किरदार निभाते हैं तो कहीं ना कहीं आप खुद को वैसे ही महसूस भी करने लगते हैं. मैं सेट पर कई बार अनजाने में बच्चों की रियल मां की तरह ही बिहेव करने लगती हूं तो फिर जब वो बच्चे पलटकर मुझे दीदी कहते हैं तब मुझे अहसास होता कि अरे मैं तो इनकी दीदी हूं इनकी रियल मां नहीं हूं.’कोरोना के चलते फिलहाल सीरियल हप्पू सिंह की उलपन पलटन की शूटिंग बंद चल रही है और इसलिए समय का सदुपयोग करने के लिए कामना पाठक फ्रेंच भाषा सीख रही हैं, कामना कहती हैं कि ‘पिछले साल जब लॉक डाउन लगा था उस वक्त मैं अपनी फैमिली के पास इंदौर चली गई थी लेकिन इस साल मैं इंदौर नहीं गई.उन्होंने ये बताते हुए इसका कारण भी बताया उन्होंने कहा, “क्योंकि मुझे लगता है कि इस साल कोरोना का कहर ज्यादा चल रहा है इसलिए ऐसे समय में ट्रैवल करना मेरे और मेरी फैमिली के लिए सुरक्षित नहीं होगा. इसलिए मैं मुंबई में ही रहकर आजकल फ्रेंच भाषा सीख रही हूं और मैंने उनका ऑन लाइन कोर्स भी ज्वाइन कर लिया, जहां वो लोग मुझे इतना ज्यादा होम वर्क देते हैं कि मेरा काफी सारा समय उसी में बीत जाता है।