मुश्किल दौर में पीड़ित परिवारों को मिली मदद से आसान हुई जिंदगी की राहें

 मुश्किल दौर में पीड़ित परिवारों को मिली मदद से आसान हुई जिंदगी की राहें

अररिया(रंजीत ठाकुर): कोरोना महामारी की वजह से अब तक कई परिवारों को गंभीर नुकसान झेलना पड़ा है। संक्रमण की चपेट में आकर कई परिवार उजड़ गये तो कई बच्चों को अनाथ होना पड़ा। कई तो ऐसे हैं जिसकी देखभाल करने वाला परिवार का कोई सदस्य ही नहीं बचा है। मुश्किल परिस्थितियों से जूझ रहे ऐसे परिवार जब कहीं से कोई जरूरी मदद की उम्मीद लगाये बैठे थे तो चुनौतियों से भरे इस दौर में सरकार व स्थानीय प्रशासन हमदर्द बनकर पीड़ित परिवार के साथ खड़ा नजर आया। कोरोना संक्रमण की वजह से अपने पति को खो चुकी विभा देवी बताती हैं कि संक्रमण की वजह से हुई पति की मौत के बाद उनका पूरा परिवार उजड़ चुका था। अपने बूते परिवार के तीन छोटे-छोटे बच्चों का गुजर-बसर उन्हें मुश्किल मालूम हो रहा था। ऐसे दौर में सहायता राशि के रूप में मिली आर्थिक मदद उनके लिये बेहद मददगार साबित हुआ।

समय पर मिली सरकारी मदद से आसान हुई जिंदगी की राहें :

कोरोना पीड़ित परिवारों को उपलब्ध कराये जा रहे राहत किट देने के लिये जब विभागीय कर्मी अररिया प्रखंड अंतर्गत जमुआ वार्ड संख्या 06 स्थित विभा देवी के घर पहुंचे तो राहत पैकेट प्राप्त करते हुए उनकी आंखें डबडबा गयी। भावुकता भरे स्वर में उन्होंने कहा कि हम गरीबों के लिये अब सरकार व प्रशासन के माध्यम से मिलने वाली मदद ही एक मात्र सहारा है। सरकारी स्तर से समय समय पर जरूरी मदद अब तक मिलता रहा है। आगे भी इसे जारी रखने की जरूरत है। हालांकि कोरोना पीड़ित परिवारों के प्रति सरकार व प्रशासन का नजरिया अब तक सहानुभूतियों से भरा रहा है। इससे जिंदगी की राहें थोड़ी आसान हुई है।

पीड़ित परिवारों के बीच किया जा रहा राहत किट का वितरण :

जिले में कोरोना की वजह से दिवंगत हुए लोगों के आश्रितों के बीच राहत किट का वितरण किया जा रहा है। समाज कल्याण विभाग व केयर इंडिया के सहयोग से प्रखंडवार पीड़ित परिवारों के बीच किट वितरित किये जा रहे हैं। जानकारी देते हुए केयर की डीटीओएफ डोली वर्मा ने बताया कि प्रभावित वैसे परिवार जिसमें सदस्यों की संख्या पांच से कम है उन्हें 01 किट व 05 से अधिक सदस्य वाले परिवारों को 02 किट उपलब्ध कराया जा रहा है। जिले के चिह्नित 13 परिवारों के बीच राहत किट वितरित किया जाना है। चिह्नित 03 परिवार ऐसे हैं जिन्हें 02 किट उपलब्ध कराया जाना है। किट में रोजमर्रा खान-पान में उपयोग लाये जाने वाले कुल 18 तरह के सामग्री शामिल हैं।

शेष प्रखंडों में ही जल्द होगा राहत किट का वितरण :

जानकारी देते हुए डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ ने बताया कि कुर्साकांटा, फारबिसगंज, पलासी, जोकीहाट अररिया में किट का वितरण हो चुका है। वितरण के लिये किट नरपतगंज भेजा जा चुका है। शेष अन्य प्रखंडों में भी किट भेजने की प्रक्रिया जारी है। महज एक से दो दिनों के अंदर शत प्रतिशत प्रभावित परिवारों को किट उपलब्ध करा दिये जाने का भरोसा उन्होंने दिया। उन्होंने बताया कि प्रभावित परिवारों को राज्य सरकार के स्तर से मुआवज राशि के तौर पर 04 लाख रुपये व केंद्र सरकार के स्तर से 50 हजार रुपये बतौर मुआवजा राशि उपलब्ध कराने का आदेश सरकार से प्राप्त है। अब तक 96 लोगों को राज्य स्तरीय सहायता राशि के रूप में 04 लाख रुपये का भुगतान किया जा चुका है। वहीं केंद्र सरकार के स्तर से 58 लोगों को बतौर मुआवजा राशि उपलब्ध करा दिया गया है। शेष लोगों को मुआवजा राशि उपलब्ध कराने की प्रक्रिया जारी है।

न्यूज़ क्राइम 24 संवाददाता

Related post