सरकार के द्वारा चलाए जा रहे हैं महत्वाकांक्षी योजना नलजल बना शोभा की वस्तु

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत सीमावर्ती पंचायतों में सरकार के द्वारा लाखों की लागत से चलाए जा रहे हैं महत्वाकांक्षी नलजल योजना शोभा का वस्तु बन गया है। टंकी तो बना लेकिन गांव के लोग शुद्ध पानी पीने के लिए अब भी तरस रहे हैं। और सरकारी महकमा चुप्पी साधे हुए हैं। ऐसा लगता है सरकारी कार्य भगवान भरोसे चल रहा है. इसी कड़ी में संवाददाता के द्वारा समाचार संकलन के दौरान नवाबगंज पंचायत के सीमावर्ती वार्ड सात कोशिकापुर में देखा गया कि प्राथमिक विद्यालय कोशिकापुर परिसर में लाखों की लागत से सरकार के महत्वाकांक्षी योजना सात निश्चय के तहत नल जल का टंकी बना पड़ा है, पानी चलता नहीं देखकर स्थानीय लोगों से पूछताछ किया तो लोगों ने बताया कि संवेदक के द्वारा कई महीनों पूर्व पानी का टंकी का निर्माण तो किया गया लेकिन अब तक इस वार्ड में लोगों के घरों तक पानी नहीं पहुंचाया गया है।यहां तक की पाइप लाइन का कार्य भी अब तक सभी घरों में पूर्ण नहीं किया गया है.

इस बाबत वहां उपस्थित वार्ड पंच तारानंद यादव, ग्रामीण शिक्षक ललन कुमार दास, रूपेश कुमार यादव, मनोज यादव, रामप्रवेश यादव, मोहम्मद सलीम, प्रभु कुमार दास, नवीन दास, फूलचंद पंडित, सूरज कुमार दास, संतोष दास, प्रमोद दास, बालचंद पंडित, ने बताया कि लगभग एक वर्ष बीत चुके हैं सरकार के महत्वाकांक्षी योजना सात निश्चय से नल जल के तहत विद्यालय परिसर में टंकी बनाया लेकिन विभागीय उदासीनता एवं संवेदक के लापरवाही के कारण अब तक इस वार्ड में शुद्ध जल लोगों के घरों तक नहीं पहुंचा। उपस्थित लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार का यह योजना फ्लॉप योजना है। उच्चस्तरीय जांच हो तो सारा पोल खुल जाएगा।