बिहार

निर्माण के साथ हीं टूट रही पेवर ब्लॉक सड़क, ग्रामीणों में आक्रोश

अररिया, रंजीत ठाकुर भरगामा प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में बनी पेवर ब्लॉक सड़कें एक से दो महीने में हीं टूट जा रही है। जिससे निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठ रहे हैं। बताया जा रहा है कि निर्माण कार्य के बाद प्रखंड कार्यालय में पदस्थापित कनीय अभियंता द्वारा गुणवत्ता की जांच किए बिना हीं राशि का भुगतान कर दिया जा रहा है । जिससे यह स्थिति उत्पन्न हो जा रही है प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में दर्जनों ऐसी सड़कें हैं,जो निर्माण के महज एक सालों के बाद हीं क्षतिग्रस्त हो गई है। बताया जाता है कि निर्माण एजेंसी द्वारा कार्यस्थल पर नहीं तो बोर्ड और नहीं योजनाओं का नाम व प्राक्कलित राशि का जिक्र किया जाता है। जिससे लोगों को निर्माण कार्य का समय और लागत की राशि हीं नहीं पता चल पा रहा है।

ताजा मामला प्रखंड के सिरसिया कला पंचायत के वार्ड संख्या 06 स्थित मुख्य सड़क से दिनेश यादव के घर तक पेवर ब्लॉक सड़क निर्माण से जुड़ा हुआ है। स्थानीय ग्रामीण जयकुमार यादव,सुबोध यादव,टुनटुन यादव,गोपाल यादव,राज किशोर यादव, बालकिशोर यादव, दिनेश यादव आदि का कहना है कि उक्त पेवर ब्लॉक सड़क का निर्माण बीते एक महीने पूर्व किया गया है। जो जगह-जगह ध्वस्त हो गया है। जबकि वार्ड संख्या पांच स्थित मेन रोड से इंदु झा के घर तक बनी पेवर ब्लॉक सड़क की भी यही स्थिति है। लोगों का आरोप है कि कमीशन के खेल में निर्माण कार्य की गुणवत्ता की जांच नहीं कर राशि भुगतान का निर्देश दे दिया जाता है। जिसके कारण उक्त पेवर ब्लॉक सड़क की ऐसी स्थिति है।

Advertisements
Ad 2

बताया गया कि उक्त पेवर ब्लॉक सड़क निर्माण के समय में स्थानीय मुखिया के कहने पर उक्त सभी ग्रामीणों ने अपने रुपए खर्चकर उक्त सड़कों में करीब 180 ट्रेलर मिट्टी डलवाया था। उस समय मुखिया ने कहा था कि सभी लोगों को मिट्टी का खर्च मिलेगा। लेकिन,अब जब मुखिया को मिट्टी का खर्च देने को कहते हैं तो वे आक्रोशित हो जाते हैं। कहते हैं कि मिट्टी का खर्च मिलने का कोई प्रावधान नहीं है। वहीं इस संबंध में मुखिया प्रतिनिधि राम कुमार साह ने बताया कि उक्त सड़क का निर्माण में उन्होंने किसी भी ग्रामीणों से मिट्टी की कोई सहयोग नहीं ली है। बताया कि दुश्मनी के तहत उक्त पेवर ब्लॉक सड़क के निचे से मिट्टी हटा दिया जाता है। जिसके कारण सड़क कहीं-कहीं टूट गई है। उसे अतिशीघ्र मरम्मत करा दिया जाएगा। हालांकि इस संबंध में जब बीडीओ शशि भूषण सुमन से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि उक्त पेवर ब्लॉक सड़कों की गुणवत्ता की जांचकर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

Related posts

बेगूसराय में एक ही परिवार के चार बच्चों की डुबने से हुई मौत!

कार्य में लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर होगी सख्त कार्रवाई : मुख्यमंत्री

उपविकास आयुक्त के अध्यक्षता में कार्यों की समीक्षा बैठक आहूत की गई