अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सेमिनार का आयोजन

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): मदर्स इण्टरनैशनल टीचर्स ट्रेनिग अकादमी के भव्य सभागार में महिलाओं के प्रति सम्मान प्रदर्शित करने के लिए तथा उनके आर्थिक , राजनीतिक एवम् सामाजिक उपलब्धियों से प्रेरणा लेने के लिए , अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सेमिनार तथा पोस्टर पेंटिंग जैसे प्रेरक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया । कार्यक्रमों में भाग लेनेवाले विद्यालय परिवार के सदस्य थे- हर्षिता साकिया , गुड़िया , अनिल , सुष्मिता , दिव्या , दिवेश , अनामिका , नैन्सी , प्रिया , ब्रजेश आदि । अकादमी के निदेशक अरशद अहमद , प्राचार्या डा . गुलिसताँ ख़ातून तथा शिक्षकगण – डा . मीना कुमारी , डा . विकास कुमार वर्मा , शिवशंकर , शिव कुमार मौर्या , एवम् शरद कुमार तथा मदर्स इण्टरनैशनल अकादमी की प्राचार्या सुप्रिया चटर्जी भी सभागार में उपस्थित थीं । सभीलोगों ने इस कार्यक्रम की प्रशंसा की तथा अपने विचार भी अभिव्यक्त किए । अकादमी के निदेशक श्री अरशद अहमद ने कहा , कि ” आज के समय में महिलाओं और पुरूषों को एक समान समझा जाता है । इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन कर हमें महिलाओं का सम्मान करने की शपथ लेनी चाहिए तथा उनके कृत्यों या योगदानों से प्रेरणा लेनी चाहिए तभी समाज सही मायनों में आगे बढ़ सकेगा। डा ० बी ० आर ० अम्बेदकर का कहना अक्षरशः सत्य है , कि किसी भी समाज की उन्नति , उस समाज की औरतों की उन्नति से मापी जा सकती है । ” अकादमी की प्राचार्या डा . गुलिसताँ ख़ातून ने अपने वक्तव्य में कहे कि ” नारी भोग की वस्तु नहीं , रह पुरूषों की प्रेरणाश्रोत है । वह पूज्य है । जहाँ नारी की पूजा होती है , वहाँ देवताओं का निवास होता है । अतः ऐसे कार्यक्रमों में नारी को सम्मानित करना चाहिए तथा हमें प्रेरणा प्राप्त करना चाहिए । ” मंच संचालन हर्षिता साकिया , अंकिता , राहुल तथा ब्रजेश रंजन ने किया।