टीकाकरण के दूसरे चरण, प्रधानमंत्री मोदी समेत सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी लगेगी कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी कोरोना वैक्सीन दी जाएगी. जानकारी के मुताबिक इसका उद्देश्य आम लोगों में कोरोना के टीके के प्रति भरोसा कायम करना है. बता दें कि दूसरे चरण के तहत 50 साल से अधिक उम्र वालों एवं अन्य बीमारियों से ग्रस्त 27 करोड़ लोगों का टीकाकरण की योजना है। ऐसे में सभी मुख्यमंत्री जिनकी उम्र 50 साल से अधिक है दूसरे चरण के दौरान कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी.

भारत में 16 जनवरी से कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू हुआ है। भारत में ‘कोविशील्ड’ और ‘कोवैक्सीन’ टीके को आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है। कोविड-19 से बचाव के लिए टीके की खुराक सबसे पहले एक करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों को और इसके बाद दो करोड़ अग्रिम मोर्चे पर काम करने वाले कर्मियों को दी जा रही है.

टीकाकरण अभियान का शुभारंभ करते हुए पीएम मोदी ने बताया था कि वैक्सीन सबसे पहले उन्हें दी जाएगी, जिन्हें इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है। उनके अनुसार सबसे अधिक जोखिम उठाने वाले डॉक्टर, नर्स, अस्पताल के सफाई कर्मचारी और पैरा-मेडिकल स्टाफ को सबसे पहले टीका लगेगा। उसके बाद जरूरी सेवाओं और देश की रक्षा व कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालने वालों को वैक्सीन दी जाएगी, जिनमें सुरक्षाबल के जवान, पुलिसकर्मी, फायरब्रिगेड के लोग और सफाई कर्मचारी शामिल हैं। इसके बाद 50 साल से अधिक उम्र और गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों का नंबर आएगा।