देश के अन्दर समान शिक्षा का दावा करना बेमानी : रविशंकर सिंह पप्पू

बलिया(संजय कुमार तिवारी): विधान परिषद सदस्य रविशंकर सिंह ‘‘पप्पू‘‘ ने कहा कि देश के अन्दर समान शिक्षा का दावा करना बेमानी होगी। अभी सरकारी स्कूलों में अध्यापक भी पूर्ण नही हैं। सरकार ने इसी बीच इन सरकारी स्कूलों में अग्रेजी माध्यम से भी पठन-पाठन का काम शुरु कर दिया है। सच्चाई तो यह है कि यदि अग्रेजी माध्यम के प्राईवेट स्कूल न रहें तो शिक्षा ब्यवस्था और लचर नजर आती।
विधान परिषद सदस्य पप्पू रविवार को उभांव में डी0एफ0एस0 सेन्ट्रल स्कूल का उद्घाटन करने के बाद बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे. उन्होने कहा कि सरकारी स्कूलों में आज जो भी शिक्षक तैनात हैं उनमें अधिकांश अयोग्य हैं। अध्यापकों का अभाव है। स्कूलों में बच्चों की संख्या के सापेक्ष अध्यापक नही हैं। देश के बच्चे कैसे शिक्षित होगें ? सरकार योग्य सरकारी शिक्षकों की भर्ती नही कर रही है। इस लिए समान शिक्षा का सपना साकार करना मेरे समझ से परे दिखलाई देता। कहा कि प्रबन्धक दानिश फिरोज ने इस दर्द को समझते हुए इस सुदूर अंचल में अग्रेजी माध्यम से डी0एस0एफ0 सेन्ट्रल स्कूल खोलकर मुझे उद्घाटन करने का मौका दिया। इसके लिए वे धन्यवाद के पात्र हैं.

विशिष्ट अतिथि एवं सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष आद्याशंकर यादव ने कहा कि जिस स्थान पर डी0एस0एफ0 सेन्ट्रल स्कूल का शुभारम्भ किया गया है। निश्चित तौर पर इसका लाभ लोगों को मिलेगा।
स्कूल का उद्घाटन मुख्य अतिथि विधान परिषद सदस्य रविशंकर सिंह ‘‘पप्पू‘‘ ने फीता काट कर किया। प्रबन्धक दानिश फिरोज ने मुख्य अतिथि सहित अन्य अतिथियों को माला पहनाकर ऊनी साल से सम्मानित करते हुए आमंत्रित अतिथियों का आभार प्रकट किया.

इस मौके पर पूर्व विधायक गोरख पासवान, मतलूब अख्तर, आनन्द यादव, रविशंकर सिंह ‘‘पिक्कू‘‘, आचार्य शम्भूनाथ यादव, दिलरोज एडवोकेट, प्रधान आलोक सिंह, जेई अवधेश कुमार, सतीश यादव, उमेश चौरसिया, संजय यादव, भीमप्रसाद, रुद्रप्रताप यादव, अशफाक हसन, सोनू फरसाटारी, उमेश पाण्डेय, शमशेर सिंह, इश्तेयाक अहमद, इशरत अहमद, पूर्व इरफान अहमद व नादिर उस्मानी आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता किड्स इडेन इण्टरनेशनल स्कूल मोहम्मदाबाद गोहना के प्रिसिपल एस0के0 मिश्र एवं संचालन जावेद अनवर ने किया।