लहरिया कट बाइकर्स का आतंक, ना थम रहा और ना ही खत्म हो रहा, आम लोग भयभीत

[Edited By: Robin Raj]

बाइकर्स ने तेज रफ्तार को बना रखा अपना फैशन, बीच सड़कों पर स्टंट के साथ करते है वीडियो लाइव

पटना(न्यूज़ क्राइम 24): राजधानी में लहरिया कट बाइकर्स की संख्या दिन प्रतिदिन इतनी तेजी से बढ़ा रहा है कि सड़कों पर चलने वाले लोग पूरी तरह भयभीत और परेशान रहते है. उनको डर लगा रहता है कि कौन कब बाइकर्स ठोक कर निकल जाए. वहीं लहरिया कट बाइकर्स के कारण अन्य वाहन चालकों को भी इसका खामियाजा भुगतने को विवश होना पड़ रहा है. वहीं दूसरी तरफ ऐसे बाइकर्स की बढ़ती तादाद लगातार कई दुर्घटनाओं को आमंत्रण दे रही है. ऐसे चालकों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए ताकि लोगों को इससे राहत मिल सके.

शांति समिति के राम जी योगेश ने कहा-

इस पूरी बात पर शांति समिति के सदस्य राम जी योगेश बताते है कि पटना में बाइकर्स गिरोह जो नौजवान लड़के है जिस तरह से सड़कों पर इतनी हाई स्पीड से गाड़ी चलाते है, इसी बाइकर्स गिरोह के लड़के चेन छीनने का काम, लोगों का मोबाइल छीनने का काम जैसे और कितनी दुर्घटनाओं को ये लोग अंजाम देते हैं. लेकिन इसके बाबजूद भी पटना पुलिस-प्रशासन द्वारा इसपर कोई विशेष कार्रवाई नही दिख रही है. ऐसे जो नवयुवक है जो बाइकर्स गिरोह के गैंग को संचालित करके उसमें लड़कों को एकजुट करके इस तरह की घटना की अंजाम दे रहे हैं इनपर किसी भी तरह का कोई सख्त करवाई नही दिख रहा हैं. सड़क पर आपने देखा होगा कि बाइकर्स वाले आपके बगल से इस तरह लहरिया मारते हुए निकलते है की कई बार तो देखा गया कि लोग इस लहरिया कट के चपेट में आगये और सड़क पर गिर जख्मी हो गए.  तो ऐसे लोगों पर सघन अभियान चलाकर, इन लोगों का लिस्ट बना करके इनलोगों को धड़पकड़ करके इनके जो अभिभावक हैं उनको सजा देकर उनको जागरूक कर इनलोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. मैं पटना पुलिस से यह मांग करता हूँ.

मानवाधिकार के राकेश कुमार यादव ने कहा-

राष्ट्रीय मानवाधिकार और सामाजिक न्याय के राष्ट्रीय कार्यकारी युवा अध्यक्ष राकेश कुमार यादव ने पुलिस-प्रशासन से यह मांग किया हैं की बाइकर्स गैंग पर पाबंदियां लगाई जाए ताकि इससे जो क्राइम में बढ़ोतरी हो रही और दुर्घटनाओं में भी इजाफा देखने को मिल रहा है वो  ना हो. सड़कों पर कई लोग सुबह मॉर्निंग वॉक के लिए निकलते है तो कोई किसी काम से बाहर जाते है तो उनको इस बात का यह डर लगा रहता हैं कि कब वो बाइकर्स के चपेट में आ जाये और किसी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकता है, इसपर सख्त कार्रवाई होनी ही चाहिए.

आये दिन कई दुर्घटनाएं भी सामने आते रहते हैं. आप अक्सर सड़क दुर्घटनाएं की खबर सुनते होंगे. इसमे ज्यादातर कई युवा एवं नाबालिग छात्र मौत के गाल में भी समा चुके हैं. लेकिन इसके बावजूद भी अन्य युवा इन दुर्घटनाओं से बिल्कुल नही डरते है. इसके बजाय तेज रफ्तार को और अपना फैशन बनाने बना चुके है. इस फैशन के साथ सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा लाइक शेयर के लिए अपने हुनर को रफ्तार के साथ नित्य दिन मौत से रेस भी लगा रहे हैं.

गौरतलब है कि भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र में भी अक्सर लहरिया कट बाइकर्स अपना करतब दिखाते नजर आते हैं. और उस वीडियो को रिकॉर्ड करके सोशल मीडिया पर अपलोड करते है. इन बाइकर्स के कारण सड़कों पर पैदल चलने वाले कई लोग डर-डर कर चलते है या फिर सड़क से दूर होना ही जहां मुनासिब समझते हैं. वहीं दूसरे वाहन चालक भी ऐसे लहरिया कट बाइकर्स को देख कुछ पल के लिए अपने वाहन को सड़क किनारे कर थोड़ी देर के लिए रोक लेते है ताकि उनके चपेट में वो ना आजाएं.

हालांकि इन बाइकर्स चालकों के अभिभावक भी अपने बच्चों की इन गलतियों पर कोई ठोस कदम नहीं उठाते. जिसका नतीजा है कि अब तक कई दुर्घटनाओं में कई युवा मौत की गहरी नींद में सो चुके हैं. और जिनकी अच्छी किस्मत रही वो मौत के मुहं से लौट आते है.

वाहन जांच का भी नहीं पड़ रहा है असर-

विभिन्न सड़क मार्गों पर आये दिन पुलिस द्वारा वाहन चेकिंग अभियान चलाया जाता है. इसके बावजूद भी इन बाइकर्स पर इसका कोई असर नहीं दिख रहा है. इनका रफ्तार का सिलसिला लगातार जारी है. स्थानीय लोगों के मुताबिक पुलिस द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नही होने के कारण इन बाइकर्स का कारनामा लगातार सड़कों पर बढ़ता जा रहा है. जिसके कारण दुर्घटनाओं लगतार बढ़ते जा रही है. इन बाइकर्स पर और कड़ा एक्शन लेना होगा तभी इस पर लगाम लगाया जा सकता हैं।