घूरना बाजार पाकिस्तान में है या हिंदुस्तान में जवाब दें प्रशासन : मनोज सोनी

अररिया(रंजीत ठाकुर): बीते दिनों घूरना बाजार में एक पक्षों के द्वारा किए गए हमले व मारपीट के आरोपियों को गिरफ्तार करने के बजाय घूरना पुलिस द्वारा उल्टे पीड़ित लोगों के ऊपर झूठा मुकदमा कर प्रताड़ित कर रही है l यह प्रशासन की मनमानी किसी भी सूरत में नहीं चलेगी l उक्त बातें बजरंग दल के पूर्व जिला संयोजक मनोज सोनी ने फारबिसगंज के वार्ड संख्या दो में बजरंगबली मंदिर के प्रांगण में गुरुवार को बैठक के दौरान कही है। उन्होंने कहा आखिर घूरना पुलिस के ऊपर किन लोगों का दबाव है कौन ऐसी परिस्थिति है जो हमला में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार करने से डर रही है। उल्टे मारपीट में जख्मी पीड़ित लोगों को ही प्रताड़ित क्यों कर रही है। उन्होंने कहा अररिया प्रशासन बताएं क्या घूरना बाजार पाकिस्तान में है या हिंदुस्तान में अगर हिंदुस्तान में है तो फिर वहां के हिंदुओं पर प्रशासन की मौजूदगी में पाकिस्तान जैसी बर्बरता क्यों श्री सोनी ने प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल करते हुए कहा घूरना प्रशासन की एकपक्षीय कार्यवाही से जिले की शांत माहौल में विघ्न पैदा हो सकता है। प्रशासन अपनी इरादे को बदलें पीड़ित लोगों को प्रताड़ित करना बंद करें और आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी कर उन्हें जेल भेजें अन्यथा अंजाम अच्छा नहीं होगा। इस मामले को लेकर पूरे जिले भर में उग्र आंदोलन होगा अंजाम चाहे जो भी हो। बैठक में मौजूद बजरंग दल के कार्यकर्ताओं में आशीष सिंह, पप्पू यादव, मुकेश यादव, संजय रजक, अनिल पासवान, किशन सरदार, राहुल राय, राजा शर्मा सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।