जिले का चार प्रखंड हॉटस्पॉट जोन में तब्दील, बरती जा रही विशेष सतर्कता

अररिया(रंजीत ठाकुर): जिले में कोरोना का संक्रमण तेजी से हो रहा है| हर दिन संक्रमण के औसतन 20 से 25 मामले सामने आ रहे हैं| शु्क्रवार को जिले में कोरोना संक्रमण के 27 नये मामले सामने आये हैं| इस तरह जिले में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 107 हो गई है| वहीं अब तक कुल 91 हजार 535 लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है| इसमें टीका का पहला डोज लेने वालों की संख्या 80 हजार 846 है तो 10 हजार 689 लोग टीका का दूसरा डोज ले चुके हैं| जिले के चार प्रखंड कोरोना संक्रमण के लिहाज से हॉट स्पॉट जोन में तब्दील हो चुके हैं | स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव व जिलाधिकारी से प्राप्त दिशा निर्देश के आधार पर इन प्रखंडों में संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिये विशेष सतर्कता बरती जा रही है| इसके लिये खास इंतजाम किये गये हैं| संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के प्रयासों के तहत विभाग अधिक से अधिक लोगों को टीकाकृत करने व जांच की प्रक्रिया में तेजी लाने के प्रयासों में जुटा है.

जिले का चार प्रखंड संक्रमण से अधिक प्रभावित :

कोरोना संबंधी मामलों की जानकारी देते हुए सिविल सर्जन अररिया डॉ एमपी गुप्ता ने कहा जिले का फारबिसगंज व अररिया कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित प्रखंडों में शुमार है| जहां हर दिन औसतन संक्रमण के पांच से आठ मामले मिल रहे हैं| इसके अलावा कुर्साकांट व पलासी भी संक्रमण के लिहाज से हॉटस्पॉट जोन में तब्दील हो चुका है| प्रभावित प्रखंडों में जिलास्तरीय कार्यक्रम पदाधिकारी को नोडल बहाल किया गया है| जो अपने स्तर से हर दिन प्रभावित इलाकों का निरीक्षण करेंगे| प्रतिदिन शाम में वस्तु स्थिति की समीक्षा की जा रही है| उन्होंने कहा संक्रमण के अधिकांश मामलों में ट्रेवल हिस्ट्री नहीं मिल रही है | विभाग संक्रमण के स्रोत का पता लगाने पर विशेष ध्यान दे रहा है.

प्रवासियों की जांच व क्वारेंटाइन का होगा खास इंतजाम :

दिल्ली, महाराष्ट्र, अहमदाबाद सहित अन्य औद्योगिक शहरों में संक्रमण के हालात बेकाबू हो चुके हैं| इसे देखते हुए प्रवासियों को गृह जिला पहुंचाने के लिये विशेष ट्रेन का परिचालन आने वाले कुछ दिनों में संभव है| बड़ी संख्या में प्रवासियों के लौटने की स्थिति में उनकी जांच व क्वारेंटाइन को लेकर भी विस्तृत रणनीति पर विचार किया जा रहा है|

आउटरीच केंद्रों पर चिकित्सीय सेवा बढ़ाने पर जोर :

संक्रमण की वजह से कई अन्य बीमारियों का प्रसार बढ़ रहा है| इसे देखते हुए राज्य स्वास्थ्य समिति से प्राप्त दिशा निर्देश का हवाला देते हुए डीपीएम रेहान अशरफ ने बताया आउटरीच के सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर व सब सेंटर पर उपलब्ध चिकित्सकीय सेवाओं को मजबूती देने का प्रयास किया जा रहा है| इससे इलाज के लिये शहरी चिकित्सा केंद्रों पर लगने वाली भीड़ में कमी आयेगी| जो संक्रमण के प्रसार की संभावना को कम करने में मददगार होगा| रूटिन इम्युनाइजेशन पर खास फोकस किया जाना है|

चार दिन संचालित होगा कोरोना टीकाकरण अभियान :

संक्रमण की वजह से अन्य स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित न हो इसके लिये जिला स्वास्थ्य विभाग ने सप्ताह में चार दिन कोरोना टीकाकरण अभियान के संचालन का निर्णय लिया है| हर सप्ताह सोमवार, मंगलवार, गुरुवार व शनिवार को कोरोना टीकाकरण अभियान का संचालन किया जायेगा| शेष दिनों में आरआई व एनसीडी के तहत संचालित कार्यक्रमों पर विशेष ध्यान दिया जायेगा|