फुलवारी में टेलर की दुकान की कमाई से बसाया था बेटी का घर संसार!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): दर्जी का काम करके एक-एक पैसा जमा कर बेटी को डोली में विदा कर घर संसार बसाया था। ढाई माह में ही ससुराल में बेटी की हत्या से दर्जी मुस्तफा अंसारी के परिवार पर दुःखों का पहाड़ टूट पड़ा । फुलवारीशरीफ के गोणपुरा निवासी मुस्तफा अंसारी टेलरिंग की दुकान में दिन-रात काम करके अपना और परिवार वालों का पालन-पोषण करके अपनी बच्ची नासरीन प्रवीण कि शादी 28 फरवरी 2020 को नवादा हिसुआ के बस्तीबिगहा में  जावेद के पुत्र जुबैद से की थी । उस वक़्त पिता के अरमान पर पानी फिर गया जब बेटी दहेज लोभियों की भेंट चढ़ गई । परिवार का रो रो कर बुरा हाल हो रहा है जबसे खबर मिली कि बेटी नसरीन की हत्या हिसुआ नवादा में ससुराल में कर दी गयी। परिवार वाले बताते हैं कि शादी के कुछ ही दिन बाद कहने लगे कि पलंग, अलमीरा ठिक नहीं है और दहेज कि मांग करते रहे । मृतका के पिता ने बताया कि मेरी पुत्री दो दिन पहले शाम को फोन पर बात हुई थी। मृतका के गले पर कई निशान मिले है जो साबित कर रहे है कि उसकी हत्या कई लोगों ने मिल कर की है। वहीं मांँ रााबिया प्रवीण का रो-रोकर बुरा हाल है। मुस्तफा अंसारी को 5 बेटी तथा 3 बेटे है। सभी पुत्र अभी पढ़ाई कर रहे है। मुस्तफा अंसारी की टेलर की दुकान चुनौती कुआं दुर्गा मंदिर के पास है।  वहीं हिसुआ नवादा थाना प्रभारी राजीव पटेल का कहना है कि अभी तक तीन लोगों कि गिरफ्तारी हुई है जिसमें लड़के की माँ,बाप और बहनोई शामिल हैं। तीनों को जेल भेजने कि तैयारी चल रही है। वहीं दुल्हें राजा अभी लुका छिपी का खेल रहे हैं और वो भी जल्दी पुलिस गिरफ्त में होगे।