दो-दो अपहृत युवकों का अब तक सुराग नहीं

मनेर(आनंद मोहन): सुशासन बाबू के सरकार में हत्या, लूट , रंगदारी , अपहरण , गैंगरेप जैसे संगीन वारदातें हो रही है। वहीं नेता प्रतिपक्ष लोग भी पूरी तरह से सरकार पर हावी हैं। वही पटना पुलिस की लापरवाही सामने आया है। मामला मनेर थाना क्षेत्र का है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार मनेर थाना क्षेत्र के दो विभिन्न गांव से पिछले 10 दिन पूर्व एक युवक और 7 दिन पूर्व दूसरे युवक का अपहरण कर लिया गया। जिस मामले में पुलिस के हाथ आज तक कोई सुराग नहीं लग पाया है। बताते चलें कि मनेर के काजी मोहल्ला निवासी हरिनारायण विश्वकर्मा का 30 वर्षीय पुत्र रजनीश कुमार 14 जनवरी से लापता है। जिस बाबत हरिनारायण विश्वकर्मा ने मनेर थाना में अपहरण का मामला दर्ज कराया। आज 7 दिन गुजर जाने के बाद भी अपहरणकर्ता खुलेआम घूम रहे हैं। वहीं अपहृत युवक का कोई सुराग नहीं मिल पाया है। वहीं रामपुर दियारा क्षेत्र से सोनू सिंह नाम का युवक 11 जनवरी से लापता है। जिसके बाबत सोनू सिंह की मां दीपा देवी ने मनेर थाना में अपहरण का मामला दर्ज कराया है। पुलिस कार्रवाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति करती है। फिर भी दोनों युवक रजनीश और सोनू का कहीं अता पता नहीं चल पाया है और पुलिस भी मामले को उद्भेदन करने में अब तक असफल रही है इधर रजनीश के माता-पिता का रो-रो कर बुरा बुरा हाल है। वही सोनू सिंह की मां दीपा देवी भी दिन रात रोते रह रही हैं और दरवाजे पर बैठकर अपने लाडले की बाट जो रही है। इसे पुलिस की लापरवाही या ना कामयाबी का समझ से पड़े है। जबकि दोनों दर्ज कराए गए प्राथमिकी में नामजद अभियुक्त बनाए गए हैं। वही दोनों अपहरण युवक की बरामद नहीं होने से परिजनों में दहशत का माहौल है। लोगों में तरह-तरह की चर्चाएं चल रही है। दोनों अपहरण युवकों के परिजनों ने प्रशासन से मांग किया है कि जल्द से जल्द दोनों सहकुशल युवक को बरामद किया जाए। अब देखना होगा कि कब तक दोनों युवकों को मनेर पुलिस बरामद कर पाती है।