वर्चुअल ओरिएंटेशन के साथ नए विद्यार्थियों का स्वागत 

फूलवारीशरीफ(अजित यादव): बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय पटना के अंगीभूत बिहार पशु चिकित्सा महाविद्यालय में नव प्रवेश प्राप्त स्नातक (बी.भी.एससी एंड एएच) के विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन दिक्षारंभ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। वेटरनरी में स्नातक की डिग्री के लिए हुए 60 सीटों के नामांकन में अधिकांश छात्र बिहार राज्य से चयनित हुए हैं और अन्य राज्यों जिनमें मध्यप्रदेश, राजस्थान, हरियाणा और नई दिल्ली के छात्रों ने भी प्रवेश प्राप्त किया है। इस अवसर पर कुलपति डॉ. रामेश्वर सिंह ने विद्यार्थियों का स्वागत करते हुए कहा कि वेटनरी और पशु विज्ञान के क्षेत्र में असीम संभावनाएं है, और ये क्षेत्र बहुत व्यापक है। बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के डीन डॉ. जे.के. प्रसाद ने महाविद्यालय के इतिहास पर प्रकाश डाला साथ ही विश्वविद्यालय के कार्य प्रणाली, विभिन्न निदेशालयों की कार्यप्रणाली, एग्जाम पैटर्न, कोर्स पैटर्न इत्यादि पर विस्तार पूर्वक जानकारी दी.

निदेशक छात्र कल्याण डॉ. रमन कुमार त्रिवेदी ने छात्रों को विश्वविद्यालय के फैसिलिटीज और को-करीकुलर एक्टिविटीज के बारे में बताया और छात्रों को पढाई के अलावा सभी क्षेत्रों में भागीदारी करने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर ऑफिसर इंचार्ज अकादमिक डॉ. अजित कुमार ने विद्यार्थियों को वेटरनरी कॉउन्सिल ऑफ़ इंडिया के द्वारा संचालित इस पाठ्यक्रम के नियम और कानून से वाक़िफ़ करवाया, लाइब्रेरी इंचार्ज डॉ. मनोज कुमार सिन्हा लाइब्रेरी के नियम और हॉस्टल वार्डन डॉ. पुरुषोत्तम कौशिक ने हॉस्टल रूल्स की जानकारी दी। धन्यवाद ज्ञापन डॉ. संजय कुमार भारती ने किया।