क्राइमबिहार

पटना के गौरीचक में भांजा ने अपनी मामी को मारा सीने में गोली!

फुलवारी शरीफ, (न्यूज़ क्राइम 24) पटना के गौरीचक थाना क्षेत्र के लखना गांव में मंगलवार की शाम एक भांजे ने अपनी मामी के सीने में गोली मार हत्या कर दी और फरार हो गया. गोली की आवाज सुनकर घर और आसपास के लोगों में अफरा तफरी का माहौल हो गया. वहीं घटनास्थल पर ही मामी की मौत हो गई थी हालांकि लोग आनन फानन महिला को अस्पताल लेकर लेकिन चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. घटना के बाद भांजा मौके से फरार हो गया. गोलीबारी की सूचना मिलते ही पूरे गांव में सनसनी का माहौल कायम हो गया. स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना गौरीचक थाने को दी. सूचना मिलते ही गौरीचक थाना और सदर एसडीपीओ 2 मौके पर पहुंचे और मृतक के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया है.

गौरीचक थाना पुलिस मामले की छानबीन शुरू कर दी है. घटना की पुष्टि करते हुए एसीडीपीओ सत्यकाम ने बताया कि हंसी मजाक में गोली मारे जाने की बात सामने आई है. उन्होंने बताया कि पुलिस मौके से गोली का एक खोखा बरामद किया हैं. उन्होंने बताया कि हत्यारे भांजे की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है. हत्यारा भांजा नौबतपुर के परसा गांव का रहने वाला है. घटना के बारे में बताया जा रहा है कि लखना गांव में भांजा शुभम कुमार ने अपनी मामी खुशबू देवी उर्फ बेबी को मंगलवार को सीने में गोली मार दी. गोली लगते ही खुशबू देवी मौके पर ही गिर कर दम तोड़ दिया. घटना के बाद भांजा शुभम कुमार मौके से फरार हो गया. राजमिस्त्री का काम करने वाले खुशबू देवी के पति सुधीर साव ने बताया कि पिछले 3 महीने से शुभम कुमार अपने नानी घर में ही रह रहा था.

Advertisements
Ad 2

मंगलवार को हंसी मजाक में ही उसने अपने मामी को गोली मार दी. उन्होंने बताया कि शुभम कुमार मूल रूप से नौबतपुर थाना के परसा गांव का निवासी है और अपने नानी घर लखना गांव में तीन माह से रह रहा था. वहीं पुलिस को छानबीन में या बात सामने आई है कि शुभम कुमार पहले से हथियार लेकर घर में रखे हुए था और कई बार खेल-खेल में अपनी मामी को कहता था की गोली मार देंगे. वही गांव में मामा भांजे के बीच का नाजायज संबंध वाला चर्चा भी है.हालाकी इस बारे में कोई खुलकर कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है. मृतक महिला को सिमरन रोहित समेत दो बेटियां और एक बेटा है जिनका रो-रोकर बुरा हाल होने लगा. बच्चों को यह समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर उनकी मां की गोली मार कर हत्या क्यों कर दिया गया. तीनों बच्चों अभी अबोध और मासूम है जिन्हें कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था. लोगों की भीड़ और परिजन को रोते बिलखते देख वे लोग भी रो रहे थे. गांव वालों ने बताया कि बच्चों ने पुलिस को बताया है कि उनके शुभम भैया ने ही मम्मी को गोली मार दी और फरार हो गया.

गौरीचक थाना अध्यक्ष ने बताया कि नौबतपुर के परसा का रहने वाला शुभम कुमार 19 वर्ष का युवक कुछ माह से अपने ननिहाल में रह रहा था. पुलिस टीम शुभम के पिता शंभू शाह एवं अन्य से पूछताछ करके फरार हत्यारे को दबोचने में जुट गई है. मामी और भांजे में किस तरह का खेल चल रहा था और किस तरह का मजाक का माहौल था जिसमें गोली चल गई इसकी छानबीन अभी की जा रही है.

Related posts

बेगूसराय में एक ही परिवार के चार बच्चों की डुबने से हुई मौत!

कार्य में लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर होगी सख्त कार्रवाई : मुख्यमंत्री

उपविकास आयुक्त के अध्यक्षता में कार्यों की समीक्षा बैठक आहूत की गई