पटना के गौरीचक थाना अंतर्गत बेलदारीचक में सड़क दुर्घटना में एक युवक की हुई मौत

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पटना जिला के गौरीचक थाना अंतर्गत एक 40 वर्षीय युवक सनोज प्रसाद जो कि बेलदारीचक रहने वाला था जिसकी मौत सड़क हादसे में हो गयी। हादसे के वक्त वह नशे में था जो रात में खेत मे काम करके घर जा रहा था ,इसी क्रम में तेज रफ्तार से आ रही अज्ञात वाहन ने उसे धक्का मार कर फरार हो गया। मौके पर वाहन चेकिंग कर रही गौरीचक थाना को जैसे ही सूचना मिलती है तो तुरंत उसे अस्प्ताल ले जाने लगी तभी जाते जाते रास्ते में ही उनकी मौत हो जाती है । वहीं गुस्साए ग्रामीणों का कहना है कि गौरीचक थाना के गाड़ी से ही जानबूझकर एक्सीडेंट किया गया था । युवक नशे में था जो पुलिस चेकिंग देख भागने के चक्कर मे गिर गया था जिसके बाद पुलिस ने उसपर गाड़ी चढ़ा दी। हालांकि पुलिस ने ग्रामीणों और परीजनो के आरोपों को गलत बताया है.

घटना के बारे में बताया जाता है कि बेलदारी चक निवासी पीडब्ल्यूडी में कमर्मचारी रामलखन प्रसाद के चालीस वर्षीय पुत्र सनोज प्रसाद खेत मे काम कर लौट रहा था । इस दौरान नशे में होने के चलते सड़क पर पुलिस चेकिंग देख डर गया । पुलिस के टोकने पर वह भागने के प्रयास में अज्ञात तेज रफ्तार वाहन के धक्के से डिवाइडर से टकरा कर बुरी तरह जख्मी हो गया।जिसकी मौत पुलिस द्वारा अस्प्ताल ले जाने के दौरान हो गयी.

घटना गुरुवार की रात की बताई जाती है जिसे लेकर गुस्साए लोगों ने पटना गया रोड को शुक्रवार को सुबह 5:00 बजे से लेकर दोपहर के 12:00 बजे तक जाम कर बवाल किया। कई थानों की पुलिस ने काफी समझा-बुझाकर मुआवजा का आश्वासन दिया और लोगो को हाइवे से साइड किया गया। मृतक के परिवार का बहुत बुरा हाल है। उनका कहना है कि यही एक शख्स था जिसे पूरा घर चलता था, आज यही नहीं रहे तो हम कहां से इन चार बच्चों को खिलाएंगे .प्रशासन ने तत्काल सहायता 23 हजार दिया है और अन्य सहायता दिलाने का आश्वासन दिया है.

इस पुरे मामले में गौरीचक थानाध्यक्ष लालमणि दुबे ने बताया कि अज्ञात तेज रफ्तार हाईवा से धक्का लगने से युवक डिवाइडर से टकरा गया था जिसे पुलिस अस्प्ताल ले जा रही थी।इस दौरान ही उसकी मौत रास्ते मे हो गयी । इसके बाद घटना की जानकारी मिलने पर पहुंचे परीजनो ने शव को थाना से ही घर ले जाने की बात करने लगे जिसके बाद पुलिस ने शव को एनएमसीएच पोस्टमार्टम कराने भेज दिया।