बिहार

अब एम्स पटना में सीजीएचएस के लाभुक सरकारी कर्मियों को कैशलेस इलाज की सुविधा होगी उपलब्ध

फुलवारी शरीफ, अजीत अब एम्स पटना में सीजीएचएस के लाभुक सरकारी कर्मचारियों का कैशलेस इलाज की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी.इसके लिए एम्स पटना और सीजीएचएस पटना में करार हुआ है.सीजीएचएस लाभार्थियों के लिए स्वास्थ्य देखभाल की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है.कैशलेस चिकित्सा लाभों में सीजीएचएस दिशा निर्देशों के अनुसार बाह्य रोगी परामर्श, नैदानिक परीक्षण, आंतरिक रोगी देखभाल और विशेष उपचार शामिल होंगे.इस एम ओ यु पर एम्स पटना के निदेशक डॉक्टर जी के पाल के साथ अतिरिक्त निदेशक, सीजीएचएस पटना, ठाकुर अभय प्रताप सिंह ने हस्ताक्षर किए हैं.समारोह में स्वास्थ्य देखभाल उत्कृष्टता और रोगी-केंद्रित सेवाओं के प्रति साझा प्रतिबद्धता पर प्रकाश डाला गया.

पटना एम्स के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर जी के पाल ने बताया कि एम्स पटना और सीजीएचएस पटना ने केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना (सीजीएचएस) कर्मचारियों को कैशलेस चिकित्सा लाभ प्रदान करने के लिए एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं. हम सरकारी कर्मचारियों को निर्बाध स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए सीजीएचएस पटना के साथ साझेदारी करके प्रसन्न हैं.यह पहल उच्च गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने और सामुदायिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने की हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है.

Advertisements
Ad 2

सीजीएचएस पटना के अतिरिक्त निदेशक ठाकुर अभय प्रताप सिंह ने कहा की, एम्स पटना के साथ यह साझेदारी सीजीएचएस लाभार्थियों के लिए स्वास्थ्य देखभाल पहुंच बढ़ाने के हमारे प्रयासों में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है. हम एक सार्थक सहयोग की आशा करते हैं जिससे हमारे कर्मचारियों और उनके परिवारों को लाभ होगा.इस पहल से सीजीएचएस लाभार्थियों के लिए स्वास्थ्य देखभाल प्रक्रिया को सरल बनाने, वित्तीय बोझ को कम करने और समग्र स्वास्थ्य सेवा अनुभव को बढ़ाने की उम्मीद है.

इस हस्ताक्षर समारोह में डीन एकेडमिक डॉ. प्रेम कुमार, एमएस डॉ. त्रिभुवन कुमार, ओएसडी डॉ. अनिल कुमार और एम्स पटना के अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ-साथ डॉ. संजय सहित दोनों संस्थानों के गणमान्य प्रतिनिधि उपस्थित थे.

Related posts

बेगूसराय में एक ही परिवार के चार बच्चों की डुबने से हुई मौत!

कार्य में लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर होगी सख्त कार्रवाई : मुख्यमंत्री

उपविकास आयुक्त के अध्यक्षता में कार्यों की समीक्षा बैठक आहूत की गई