एनसीसी कैम्प में पहुंचे डीएम-एसपी, कैडेट्स का बढ़ाया हौसला

बलिया(संजय कुमार तिवारी): मथुरा डिग्री कॉलेज में पिछले पांच दिन से लगे 90-यूपी बटालियन एनसीसी के कैम्प में सोमवार को जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही व एसपी डॉ विपिन ताडा पहुंचे। इसमें टीडी कालेज, कुंवर सिंह महाविद्यालय, अमर शहीद भगत शहीद इंटर कालेज व मथुरा पीजी कालेज के एनसीसी कैडेट्स ने प्रतिभाग किया है। कैम्प में एनसीसी जवानों ने एक से बढ़कर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम की भी प्रस्तुति दी। डीएम-एसपी ने बेस्ट कैडेट्स को पुरस्कृत कर उनका हौसला बढ़ाया और उज्ज्वल भविष्य की कामना की.

अपने सम्बोधन में जिलाधिकारी ने कहा कि एनसीसी ट्रेनिंग और ये हमारे कैडेट्स बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। कुछ देश ऐसे हैं जहां हर नागरिक को सैन्य प्रशिक्षण अनिवार्य होता है। एनसीसी की ट्रेनिंग सैन्य प्रशिक्षण का ही छोटा हिस्सा है। अनुशासन व टीम वर्क के साथ कैसे किसी अभियान में सफल हों, जरूरत पड़ने पर सेना या सिविल फोर्स या सिविल रूप में उपयोगी बन सकें, यही एनसीसी सिखाती है। यहां से निकली कुछ कैडेट्स, जो विशेष उपलब्धि और सब सबके लिए नजीर के रूप में हैं.

एसपी डॉ ताडा ने कहा कि किसी भी क्षेत्र में सफलता के लिए अपनी टीम के साथ तालमेल बनाकर चलना सबसे जरूरी होता है। ऐसी ही जरूरी ज्ञान एनसीसी ट्रेनिंग में दिए जाते हैं। यहां से सीखी हुई बातें हमेशा जीवन को सार्थक बनाने में काम आएगी। इसमें बालिकाओं की बढ़ती संख्या देखना और भी सुखद है।

एनसीसी कैडेट्स ने किए तमाम सराहनीय कार्य-

डीएम श्री शाही ने कहा कि जिले में कुछ 13 हजार कैडेट्स हैं। कोरोना काल में बैंकों में लाइन लगाने में, महापुरुषों की मूर्ति वाले चौराहों की सफाई कर उनका सम्मान कायम रखने में, विभिन्न जागरूकता अभियान में अपना योगदान देकर सराहनीय कार्य किया है। इसके लिए बटालियन के सीओ पुनीत अरोड़ा, डीएस मलिक व सभी कैडेट्स के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

पिछले दो वर्ष में सेना में भर्ती हुए 46 छात्र-

कैम्प में डीएम-एसपी को कर्नल पुनीत अरोड़ा ने एनसीसी ट्रेनिंग से जुड़ी पूरी जानकारी दी। कुछ विशेष चित्रों के माध्यम से सेना के बड़े ऑपरेशन्स के बारे में भी बताया। यह भी बताया गया कि मथुरा महाविद्यालय की एनसीसी की यूनिट की कई कैडेट्स सेना में भर्ती हुए। पिछले दो वर्ष में यहां के 46 कैडेट्स सेना में भर्ती होकर देश सेवा में लगे हैं। इसमें एनसीसी के सर्टिफिकेट भी काफी कारगर होते हैं।

कैडेट्स का बढ़ाया हौसला-

नेशनल कराटे प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाली महाराजपुर निवासी चांदनी चौहान से बातचीत की। महिला सुरक्षा के प्रति चांदनी का जज्बा देख डीएम-एसपी भी काफी प्रभावित हुए और उसका हौसला बढ़ाया। प्रो-कबड्डी में चयनित कासिमाबाद निवासी कबड्डी नेहा सिंह चौहान, एनएसएस की स्वयंसेविका व गणतंत्र दिवस 2020 में नई दिल्ली की परेड में शामिल होने वाली प्रगति तिवारी व अन्य सभी कैडेट्स की हौसलाआफजाई की। तहसीलदार प्रभात सिंह साथ थे।